यूपी विधानसभा चुनाव 2017: मिल्‍कीपुर विधानसभा सीट के बारे में खास बातें

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से करीब 130 किमी पूरब स्थित फैजाबाद अपनी विविधताओं के लिए हमेशा से ही लोकप्रिय रहा है। फैजाबाद का मिल्‍कीपुर जिला फिलहाल समाजवादी पार्टी के कब्‍जे में है। अवधेश प्रसाद यहां से विधायक हैं। 

faizabad-milkipur-seat-up-assembly.jpg

यूपी विधानसभा चुनाव 2017: गोविंदनगर विधानसभा सीट के बारे में खास बातें

अवधेश प्रसाद सूबे की सरकार में कैबिनेट मंत्री भी हैं। ऐसे में इस विधानसभा क्षेत्र में आने वाले चुनाव काफी रोचक होंगे। सभी पार्टियों के बीच कांटे की टक्‍कर होने की पूरी उम्‍मीद है। हर बार की तरह इस बार भी यहां पर जातीय समीकरण की अहम भूमिका होगी।

मिल्‍कीपुर विधानसभा की खास बातें

  • विधानसभा संख्‍या: 273
  • मिल्‍कीपुर विधानसभा क्षेत्र फैजाबाद लोकसभा सीट में आती है। 
  • यहां की जनसंख्‍या 2470996 है। 
  • यहां की औसत साक्षरता साक्षरता 68.73 प्रतिशत है।

मिल्‍कीपुर का इतिहास

मिल्कीपुर कस्बे की स्थापना मिल्की या मालिक जाति के लोगों ने की थी जो प्राचीन काल में कभी यहाँ पर रहा करते थे और उन्हीं के नाम पर इस कस्बे का नाम मिल्कीपुर पड़ा। मिल्की या मालिक मुस्लिमों की एक जाति है जो मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश के अवध क्षेत्र में पायी जाती है। थोड़ी संख्या में मिल्की जाति के लोग पकिस्तान के कराची शहर में भी पाए जाते हैं।

मालिक या मिल्की जाति के लोगों का नाम मिल्की इसलिए पड़ा क्योंकि इन लोगों को दिल्ली सल्तनत के दौरान कर रहित भूमि दी गयी थी ताकि ये लोग वहां पर अपना गांव बसा सकें, ऐसी जमीन को मिलकियत कहा जाता था और इसी वजह से इन लोगों का नाम मिल्की या मालिक पड़ा और जिस जगह पर ये लोग बसे उस जगह का नाम मिल्कीपुर पड़ा। मालिक लोग मुख्य रूप से लेखक, या प्रशाशनिक अधिकारी होते थे कुछ लोगों को मुंशी या चपरासी का काम भी दिया गया था।

2012 विधानसभा चुनाव का परिणाम

  • सपा के अवधेश प्रसाद यहा से विजेता रहे। 
  • उन्‍हें कुल 73747 वोट मिले। 
  • कुल वोटो का 42.24 फीसदी वोट उन्‍हें मिला। 
  • उन्‍होंने बसपा के पवन कुमार को हराया था। 
  • पवन कुमार को 39543 वोट मिले थे।
देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
up assembly polls 2017 know your constituencies Milkipur.
Please Wait while comments are loading...