जानिए Moon कब और कैसे बनता है 'Supermoon'?

जब चांद 'पेरीजी' पर अर्थ के काफी क्लोज होता है तो साइज में काफी बड़ा और चमकीला दिखता है जिसे कि 'बिगमून' या 'सुपरमून' कहा जाता है।

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। आज आकाश में आपका प्रिय चांद बेहद चमकीला और बड़ा दिखाई देगा क्योंकि आज चंद्रमा पृथ्वी के बेहद निकट होगा इसलिए वो बिग दिखेगा, लेकिन क्या आप जानते हैं आपका प्यारा चंदा मामा आज 'सुपरमून' कैसे बनेगा।

14 नवंबर को होगा Super Moon का दीदार, पूनम की चांदनी से सजेगी रात

नहीं तो चलिए जानते हैं कि 'मून' की 'सुपरमून' बनने की कहानी...

  • पृथ्वी की कक्षा में घूमते हुए चंद्रमा जब धरती के सबसे नजदीक आ जाता है तो उस स्थिति को 'पेरीजी' और कक्षा में जब सबसे दूर होता है तो उस स्थिति को 'अपोजी' कहते हैं। 
  • आज चांद 'पेरीजी' पर अर्थ के काफी क्लोज होगा इस कारण वो बड़ा दिखाई देगा।
  • पृथ्वी के मध्य से चन्द्रमा के मध्य तक कि दूरी 384, 403 किलोमीटर है।
  • चंद्रमा से आसमान नीला नहीं बल्कि काला दिखायी देता है क्योंकि वहां प्रकाश का प्रकीर्णन नहीं है।
  • 2016 में तीन सुपरमून की घटना होनी हैं। इनमें पहली 16 अक्टूबर को हुई थी। उस दिन चांद पृथ्वी के 3,57,859 किमी पास आ गया था। आज 14 नवंबर को दूसरी घटना है और अंतिम घटना 24 दिसंबर को होगी। 
  • चन्द्रमा की कक्षीय दूरी, पृथ्वी के व्यास का 30 गुना है इसीलिए आसमान में सूर्य और चन्द्रमा का आकार हमेशा सामान नजर आता है।
  • वैसे इस समय जहां रात हैं वहां सुपरमून 11 बज कर 22 मिनट पर दिखाई देगा लेकिन भारत में आप आज सुपरमून के दर्शन शाम 5 बजकर 37 मिनट के बाद से कर सकते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A supermoon will add beauty to the skies on Monday, imprinting an image that will not occur in decades to come. As long as the sky is clear, it will be an excellent night to gaze the nature’s spectacle
Please Wait while comments are loading...