जानिए उत्‍तर प्रदेश की इलाहाबाद दक्षिण सीट के बारे में खास बातें

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। वर्ष 2017 में देश के सबसे बड़े राज्‍य उत्‍तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। 403 विधानसभा सीट वाले राज्‍य उत्‍तर प्रदेश में अगर किसी पार्टी को सरकार बनानी है तो उसे कम से कम 202 सीटें जीतनी होती हैं।

uttarpradesh-allahabad

वर्ष 2012 में जब आखिरी विधानसभा चुनाव हुए थे तो समाजवादी पार्टी को 224 सीटों के साथ विशाल बहुमत हासिल हुआ था।

यूं तो राज्‍य की हर सीट हर पार्टी के लिए खास है लेकिन आज‍ हम आपको उत्‍तर प्रदेश के इलाहाबाद जिले के तहत आने वाली इलाहाबाद दक्षिण सीट के बारे में बताते हैं।

विधानसभा सीट-इलाहाबाद दक्षिण

विधानसभा नंबर-263

विजेता-हाजी परवेज अहमद (टांकी)

वर्ष 2012 के नतीजे

विजयी पार्टी-समाजवादी पार्टी

विजयी वोट-43040

उपविजेता-नंदगोपाल गुप्‍ता नंदी

उपविजेता पार्टी- बसपा

उपविजयी वोट-42626

अंतर- 414

मतदाता- 146177

कुल वैध मत- 146174

जिला इलाहाबाद और इसकी खास बातें

इलाहाबाद जिला उत्‍तर प्रदेश के पूर्वी भाग में स्थित है और यह उत्‍तर प्रदेश कुछ बड़े जिलों में आता है। इलाहाबाद को पहले प्रयाग के नाम से भी जानते थे।

इसे 'तीर्थराज' यानी तीर्थों का राजा भी कहते हैं। करीब 12,15,348 जनसंख्‍या वाला इलाहाबाद कई महत्त्वपूर्ण राज्य सरकार के कार्यालयों का गढ़ है।

अकबर ने इस शहर को इलाहाबाद नाम दिया था और सन् 1583 में इसे यह नाम मिला था।

इलाहाबाद एक अरबी शब्‍द इलाह ने निकला है और आबाद फारसी का शब्‍द है और इन दोनों शब्‍दों को मिलाकर इस शहर का नाम इलाहाबाद पड़ा था।

भारत के स्वतत्रता आन्दोलन में भी इलाहाबाद की एक अहम भूमिका रही है। यहां पर अकबर की राजपूत पत्नी जोधाबाई का महल जो रानी महल के नाम से जाना जाता है, स्थित है।

इलाहाबाद ने देश को चंद्रशेखर आजाद जैसे क्रांतिकारी दिए तो देश के प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू भी इलाहाबाद के निवासी थे।

इसके अलावा सुपरस्‍टार अमिताभ बच्‍चन भी इलाहाबाद के रहने वाले हैं। इलाहाबाद गंगा, जमुना और सरस्वती का संगम कहा जाता है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Know Constituencies of UP Assembly polls 2017: Allahabad South.
Please Wait while comments are loading...