देखें, जयललिता के फिल्मी सफर की कुछ अनदेखी तस्वीरें.

Subscribe to Oneindia Hindi

चेन्नई। तमिलनाड़ु की सीएम जे जयललिता अब हमारे बीच में नहीं हैं लेकिन उनकी यादों को कोई हमसे छीन नहीं सकता है। देश की सियासत का अहम हिस्सा बनने से पहले जयललिता रूपहले पर्दे का एक बहुत बड़ा नाम था।

'अम्मा' के जाने के बाद और करीब आएंगे एआईएडीएमके और बीजेपी?

साउथ की खूबसूरत अभिनेत्री में शूमार जयललिता की बहुत सारी फिल्मों को लोग आज भी देखना पसंद करते हैं इसलिए फिल्मी कैनवस से उनकी उस छवि को कोई नहीं छीन सकता है।

जयललिता अपने पीछे छोड़ गई हैं करोड़ों की विरासत, कौन होगा संपत्ति का अधिकारी?

मालूम हो कि दिल का दौरा पड़ने के बाद पिछले 77 दिनों से चेन्नई के अपोलो अस्पताल में भर्ती सीएम जयललिता ने सोमवार देर रात अंतिम सांस ली थी। उनका अंतिम संस्कार मंगलवार को चेन्नई के मरीना बीच में हुआ।

आईये एक नजर डालते हैं जयललिता की फिल्मी करियर की कुछ खूबसूरत तस्वीरों पर जो अब केवल यादों का हिस्सा हैं..

जन्म 24 फरवरी 1948

जन्म 24 फरवरी 1948

जयललिता का जन्म 24 फरवरी 1948 में एक अय्यर परिवार में कर्नाटक के मैसूर शहर में हुआ था। घर का माहौल पढ़ाई-लिखाई वाला था। जयललिता के दादा मैसूर राज्य में सर्जन थे।

मैसूर राज्य में सर्जन

मैसूर राज्य में सर्जन

जयललिता के दादा मैसूर राज्य में सर्जन थे। जयललिता का पूरा नाम जयललिता जयराम था लेकिन जब वो मात्र 2 साल की थी तभी उनके पापा चल बसे थे,जिसके बाद ही उनके जीवन में गरीबी और दुखों का पहाड़ टूट पड़ा।

तमिल सिनेमा में 'संध्या' के नाम से किया काम

तमिल सिनेमा में 'संध्या' के नाम से किया काम

माली हालत पतली होने पर उनकी मां बैंगलोर अपने मां-बाप के पास चली आयीं और पेट पालने के लिए उन्होंने तमिल सिनेमा में 'संध्या' के नाम से काम करने का फैसला किया।

 पढ़ाई के साथ संगीत में रूचि

पढ़ाई के साथ संगीत में रूचि

खूबसूरत जयललिता को पढ़ाई के साथ संगीत में रूचि थी, वो बहुत अच्छा नृत्य कर सकती हैं। वह काफी मेधावी थी उन्होंने अपनी सारी पढाई सरकारी वजीफे पर की।

13 साल की उम्र में हिरोईन

13 साल की उम्र में हिरोईन

लेकिन जब वो 13 साल की हुईं तभी उनकी लाइफ ने करवट बदली, जो उनके जीवन का अहम मोड़ बन गया। 'संध्या' की फिल्म के एक निर्माता की नजर जयललिता पर पड़ी और उन्होंने उन्हें हिरोईन बनने का ऑफर दिया। जिसे उनकी मां ने स्वीकार कर लिया और जयललिता ने ना चाहते हुए भी फिल्मों के लिए हां बोल दिया और वो हिरोईन बन गईं।

'एपिसल' नाम की अंग्रेजी फिल्म

'एपिसल' नाम की अंग्रेजी फिल्म

मात्र 15 साल की उम्र में जयललिता ने 'एपिसल' नाम की अंग्रेजी फिल्म में काम किया। उनके खूबसूरत अदायगी और मदमस्त काया की खबर दूसरे राज्यों में पहुंची और जयललिता देखते-देखते ही तमिल के अलावा तेलुगू, कन्नड और हिंदी फिल्मों की पॉपलुर हस्ती बन गईं।

एमजी रामचंद्रन

एमजी रामचंद्रन

लेकिन तभी उनकी मुलाकात सुपरस्टार एमजी रामचंद्रन से हुईं, जिनके साथ उन्होंने 48 हिट फिल्में दी थीं।जयललिता ने जहां अपने फिल्मी करियर में सबसे ज्यादा फिल्में एमजी रामचंद्रन के साथ कीं वहीं दूसरी ओर उन्होंने अपना राजनैतिक करियर भी एमजी रामचंद्रन के साथ शुरू किया। और साल 1984 में उन्होंने राजनीति में कदम रखा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Jayalalithaa Jayaram (24 February 1948 – 5 December 2016) was an Indian actor and politician who served five terms as the Chief Minister of Tamil Nadu, for over fourteen years between 1991 and 2016.
Please Wait while comments are loading...