व्हाट्सएप पर करते हैं सबको ना बताने वाली बात, तो आपके काम की है खबर

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। व्हाट्सएप पर हम बहुत सी बातें करते हैं। इनमें से कुछ बातें ऐसी होती हैं, जिन्हें कोई और जाने ये हम कभी नहीं चाहेंगे।

whatsapp

स्मार्ट फोन का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स में व्हाट्सएप आजकल बेहद आम हैं। अपना बहुत सारा समय हम इस पर चैट में गुजारते हैं। अब अगर आपकी बातचीत पर कोई और नजर रखेगा तो आपको कैसा लगेगा।

दरअसल 25 अगस्त को व्हाट्सअप ने अपने यूजर्स के डाटा से संबधित कुछ नए कायदे -कानून जारी किए हैं। जिसके बाद यूजर्स की जानकारी के गलत इस्तेमाल का खतरा बढ़ने की बात कही जा रही है।

मासूम बेटी को पुल में डूबोकर मारा, 100 साल जेल की मिली सजा

कहा जा रहा है कि व्हाट्सएप से किसी अकाउंट के डिलीट करने के बाद भी एक महीने तक सर्वर पर डाटा मौजूद रहेगा। इसको लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। जिसके जवाब में व्हाट्सएप ने कोर्ट में जवाब दिया है।

 

अकाउंट डिलीट होते ही सर्वर से हट जाएगी यूजर की जानकारी

याचिका में सोशल नेटवर्किंग साइट से उसके नए कायदे-कानूनों के बाबत सवाल किया गया। व्हाटसएप ने इसके जवाब में सफाई देते हुए कहा है कि अकाउंट के डिलीट होने के साथ ही सर्वर से यूजर की जानकारी हट जाएगी, ये बाद में सर्वर पर नहीं होगी।

व्हाट्सएप यूजर की जानकारी को फेसबुक पर साझा करने की बात का भी व्हाट्सएप के वकील ने जवाब दिया है। वकील ने कहा कि व्हाट्सएप फेसबुक पर सिर्फ नाम और नंबर साझा करता है ना कि और कोई जानकारी।

उरी अटैक के 2 दिन बाद दिल्‍ली एयरपोर्ट की सुरक्षा में बड़ी चूक

चीफ जस्टिस जी रोहिनी और संगीता ढींगरा की बैंच ने व्हाट्सएप के नए नियमों को लेकर दायर याचिका पर सुनाई करते हुए व्हाट्सएप से इस बाबत जवाब मांगा था।

जिसके बाद व्हाट्सएप की ओर से नए नियमों को लेकर सफाई दी गई। व्हाट्सएप की ओर से ये साफ किया गया कि वो यूजर्स की निजी जानकारी को लेकर गंभीर है।

चीफ जस्टिस जी रोहिनी और संगीता ढींगरा की बैंच ने दोनों पक्षों को सुना। बैंच इस मामले में 23 सितंबर को आदेश पारित करेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
WhatsApp told HC User info unavailable after account deletion
Please Wait while comments are loading...