सुनंदा पुष्‍कर की मौत पर मेडिकल बोर्ड भी नहीं दे सका कोई निष्कर्ष

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत पर से राज हटने का इंतजार अभी और बढ़ गया है। पुष्कर की मौत के तथ्यों की जांच के लिए गठित मेडिकल बोर्ड की टीम ने एफबीआई और एम्स के निष्‍कर्षों पर एसआईटी को सौंपी अपनी रिपोर्ट में सुनंदा की मौत पर कोई निष्कर्ष नहीं निकाल पाने जाने की बात कही है।

 सुनंदा पुष्‍कर की मौत पर मेडिकल बोर्ड भी नहीं दे सका कोई नतीजा

अमेरिका के फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआइ) से आई रिपोर्ट में भी हत्या का कारण बने जहर का पता नहीं चलने पर दिल्ली पुलिस की एसआइटी ने रिपोर्ट सुनंदा के शव का पोस्टमार्टम करने वाले एम्स के मेडिकल बोर्ड को सौंप दी थी। इसका भी कोई परिणाम नहीं आया तो मार्च 2016 में एसआइटी ने केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिखकर नया मेडिकल बोर्ड बनाने की मांग की थी। इस बोर्ड में दिल्ली, चंडीगढ़ और पुडुचेरी के चार डॉक्टर हैं। अब इस बोर्ड ने जो रिपोर्ट एसआईटी को दी, उसमें भी किसी नतीजे पर ना पहुंचने की बात कही गई है।

2014 में हुई थी सुनंदा की मौत
17 जनवरी 2014 को दक्षिणी दिल्ली के एक फाइल स्‍टार होटल के कमरे में मृत पाई गई थीं। कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत की जांच में कई मोड सामने आए लेकिन पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी। सुनंदा की मौत के मामले में शशि थरूर समेत कई लोगों से पूछताछ हुई. पुलिस ने मामले के प्रमुख गवाह रहे छह लोगों का पॉलीग्राफ टेस्‍ट भी कराया. इनमें थरूर के घर का सहायक नारायण सिंह, ड्राइवर बजरंगी और दंपति का करीबी मित्र संजय दीवान भी शामिल है। गठित मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट से कोई परिणाम ना आने पर एसआईटी अब सुनंदा के बीबीएम से आगे की जांच करेगी। अमेरिका की एक अदालत ने अधिकारियों से ब्लैकबेरी मोबाइल के चैट को वापस लाने को कहा है। सुनंदा के बीबीएम चैट डिलीट पाए गए थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Sunanda Pushkar Death case Medical Board Fails To Make Any Conclusion
Please Wait while comments are loading...