यौन उत्पीड़न के मामलों में फिर सबसे आगे निकला JNU,सामने आए 39 मामले

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बीते कई महीनों सुर्खियों और विवादों का हिस्सा बने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय ने 2016 में रिकार्ड बनाया है। हालांकि यह रिकार्ड विश्वविद्यालय को गौरवान्वित करने वाला बिल्कुल भी नहीं है।

jnu

साल 2015-16 के दौरान जेएनयू में यौन उत्पीड़न की 39 शिकायतें सामने आई है। यह आंकड़ा देश के अन्य किसी विश्वविद्यालयों से काफी ज्यादा है। इससे पहले 2014-15 में 26 और 2013-14 में यौन उत्पीड़न के 25 मामले सामने आए थे।

राज्य सरकार ने दिया आदेश- कल से खुलेंगे जम्मू के सीमावर्ती इलाकों में स्कूल

स्मृति ईरानी ने भी दी थी जानकारी

बता दें कि दिसंबर में शीतकालीन सत्र के दौरान पूर्व मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी ने भी संसद में जानकारी दी थी कि बीते दो साल में देश के कुल शिक्षण संस्थानों में सबसे ज्यादा यौन उत्पीड़न के मामले जेएनयू में सामने आए हैं।

जम्मू में पुलिस के जवानों से आतंकियों ने छीनी 5 सेल्फ लोडिंग रायफल, तलाश जारी

जेएनयू में ऐसे मामलों को देखने वाली यौन उत्पीड़न निवारण कमेटी (जीएसकैस) की सालान रपट के अनुसार जनवरी 2015 से मार्च 2016 के दौरान यौन उत्पीड़ने के 42 मामले मिले।

6 मामलों की जांच नहीं बढ़ पाई आगे

कमेटी द्वारा जारी की गई रपट के अनुसार इन 42 मामलों में से 3 की जांच पूरी हो गई और मामला बंद किया जा चुका है साथ ही 3 शिकायतें वापस ले ली गई हैं और 29 मामलों की जांच जारी है।

वहीं 6 मामले आगे ही नहीं बढ़ाए जा सके क्योंकि कई बार बुलाने के बाद भी दोनों पक्ष सामने नहीं आए।

सर्जिकल स्ट्राइक पर भारत को मिला रूस का साथ, कहा- हर देश को अपनी रक्षा करने का अधिकार

बीते साल भी यौन उत्पीड़न के सबसे ज्यादा मामलों की वजह से विवादों में रहा था।

इस पर जेएनयू के अधिकारियों ने कहा था कि ऐसे मामले इसलिए ज्यादा सामने आ रहे हैं क्योंकि यहां शिकायतों को दर्ज कराने की संस्था, बाकी के संस्थानों की तुलना में ज्यादा सक्रिय है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
record harassment complaints in jnu in 2015-16.
Please Wait while comments are loading...