दिल्ली: वकील के पास 125 करोड़ की बेनामी संपत्ति देखकर चौंक गए इनकम टैक्स अधिकारी

Subscribe to Oneindia Hindi

दिल्ली हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस करने वाले एक वकील के घर पर जब इनकम टैक्स के अधिकारियों ने छापा मारा तो 125 करोड़ की बेनामी संपत्ति का पता चलने पर वे हैरान रह गए।

Read Also: हैदराबाद के एक व्‍यक्ति ने घोषित किया, उसके पास था 10,000 करोड़ का कालाधन

it department

बंगला खरीदने के बाद इनकम टैक्स अधिकारियों का छापा

वकील ने हाल में जब 100 करोड़ का बंगला खरीदा था तब वह इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के रडार पर आ गए थे। इसके बाद उनके साउथ दिल्ली रेसिडेंस पर अधिकारियों ने छापा मारा जिसमें 125 करोड़ के बेनामी संपत्ति का पता चला।

कानूनी पेशे में प्रतिष्ठित हैं वकील

जिस वकील के पास करोड़ों की बेनामी संपत्ति मिली है वह कानूनी पेशे में काफी प्रतिष्ठित माने जाते हैं। वकील के घर पर छापेमारी के दौरान आईटी अधिकारियों को प्रॉपर्टीज और कंपनियों में इनवेस्टमेंट से जुड़े कई दस्तावेज मिले हैं।

पकड़े जा चुके हैं कुछ प्रभावशाली लोग

छापेमारी अभियान चलाकर आईटी डिपार्टमेंट पहले ही डिफेंस डील से जुड़े संजय भंडारी और कॉरपोरेट कंसल्टेंट दीपक तलवार जैसे प्रभावशाली लोगों के पास करोड़ों की बेनामी संपत्ति होने का खुलासा कर चुकी है।

इनकम टैक्स विभाग ने छेड़ रखा है अभियान

बेनामी संपत्ति घोषित करने के लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने एक स्कीम चलाई थी। इसके बावजूद कई लोगों ने अपनी बेनामी संपत्ति घोषित नहीं की जिनके खिलाफ इनकम टैक्स विभाग ने छापेमारी का अभियान छेड़ा है।

आईटी डिपार्टमेंट के रडार पर पावरफुल लोग

आईटी डिपार्टमेंट ने अभी छापेमारी के लिए दिल्ली में हाई प्रोफाइल और नामी गिरामी लोगों को टारगेट करना शुरू किया है।

कंसल्टेंट्स, लॉबिइस्ट, एविएशन, डिफेंस डील से जुडे लोग, आईटी और कस्टम से जुड़े अधिकारी समेत अन्य रसूखदार लोगों की बेनामी संपत्ति का पता लगाने में आईटी अधिकारी जुटे हुए हैं।

Read Also: अगर कर रहे हैं जियो के ब्लू सिम का इस्तेमाल तो जरुर पढ़ें ये खबर

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Income Tax department officers in a raid on a Delhi based lawyer's home were shocked when they found 125 crore of unaccounted income.
Please Wait while comments are loading...