नोट बैन: वायुसेना की मदद लेना दिखाती है सरकार की बदहवासी

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। नोट बैन के बाद मचे राजनीतिक हाहाकार में हर रोज नए बयान और प्रतिक्रियाएं सामने आ रहे हैं।

500 और 1,000 की करेंसी अवैध घोषित किए जाने के बाद सोमवार को एक और प्रेस वार्ता में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस मामले के संबंध में कल विधानसभा का सत्र बुलाया गया है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार सिविल वालंटियरों को बैंक्स, एटीएम पर लगाएगा जो बिस्किट और रिफ्रेशमेंट सरीखी व्यवस्था देखेंगे साथ ही फॉर्म  भरने जैसी दिक्कतों में लोगों की सहायता करेंगे।

पीएम मोदी के गोद लिए गांव में नोट बदलने के लिए लगी है चप्पलों की लाइन

arvind

केजरीवाल ने कहा कि लोगों के घरों में चूल्हे जलने बंद हो गए हैं और देश के हालात बिगड़ते जा रहे हैं।

बदहवाश है केंद्र सरकार

उन्होंने कहा कि आज केंद्र सरकार ने यह ऐलान किया कि नोट पहुंचाने के लिए वायुसेना की मदद लेगी इससे यह जाहिर हुआ कि सरकार के पास कोई गेमप्लान नहीं था। ये सरकार की बौखलहट और बदहवासी दिखा रहा है।

केजरीवाल ने कहा कि मोदी जी के दोस्त चैन की नींद सो रहे हैं। गरीब पूरी रात बैकों के सामने बिता रहे हैं। उन्होंने कहा कि कड़वी चाय के नाम पे मोदी जी ने ग़रीबों को जहर पिला दिया।

नोट बैन: ताकतवर तानाशाह PM ने अराजकता का माहौल पैदा कर दिया

गौरतलब है कि 8 नवंबर को राष्ट्र के नाम दिए संदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1,000 की करेंसी को अवैध घोषित कर दिया था जिसके बाद से एक ओर पूरा देश लाइन में खड़ा है वहीं विपक्ष इस फैसले का विरोध कर रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Emergency session of Delhi assembly called tomorrow over demonetization crisis: Delhi CM Arvind Kejriwal
Please Wait while comments are loading...