4000 रुपये बदलने बैंक पहुंचे राहुल गांधी, बोले गरीब के साथ खड़ा हूं

राहुल गांधी एसबीआई बैंक के बाहर लाइन में लगे, लोगों में मची सेल्फी लेने की होड़।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। मंगलवार को पीएम मोदी के 1000 और 500 रुपये के नोट पर बैन के बाद आज कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी संसद मार्ग स्थित एसबीआई बैंक की शाखा पहुंचे। राहुल वहां जाकर लाइन में लग गए। राहुल गांधी ने जमकर मोदी की नोट बैन की घोषणा की आलोचना की है।

rahul

पीएम मोदी नो 1000 और 500 को नोटों पर मंगलावर को बैन की घोषणा की थी, इस घोषणा के बाद नोट बदलने के लिए लगातार लंबी लाइनें देखने को मिल रही हैं। इससे लोगों को काफी परेशानी का भी सामना करना पड़ा रहा है।

नोट बैन करने के फैसले के खिलाफ गुजरात हाईकोर्ट में याचिका

बैंकों में लगी लंबी लाइनों और आम आदमी को इससे हो रही परेशानी को बांटने की बात कहते हुए राहुल गांधी आज संसद मार्ग के एसबीआई बैंक पहुंचे। वो वहां जाकर लाइन में लग गए।

राहुल गांधी ने इस दौरान कहा कि मोदी के फैसले से गरीब आदमी को कष्ट हो रहा है। उन्होंने कहा कि मैं भी यहां 4000 रुपये बदलने आया हूं।

राहुल के साथ सेल्फी की लगी होड़

राहुल गांधी ने कहा कि मेरे लोगों को कष्ट हुआ है और मैं उनके साथ यहां खड़ा हूं। राहुल गांधी ने कहा कि नोट बैन से आम आदमी को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

इस दौरान राहुल गांधी के साथ सेल्फी लेने की होड़ मची रही। लाइन में खड़े लोगों ने जमकर कांग्रेस उपाध्यक्ष के साथ सेल्फी ली।

राहुल गांधी से जब मीडिया ने उनके यहां खड़े होने की बाबत सवाल किया तो उन्होंने सख्त तेवर दिखाए। राहुल ने कहा कि लोगों को परेशानी है इसलिए मैं यहां हूं इससे ज्यादा मुझे कुछ नहीं कहना।

कांग्रेस ने की मोदी सरकार के फैसले की आलोचना

राहुल गांधी ने जहां बैंक पहुंच कर मोदी सरकार के फैसले का विरोध किया वहीं कांग्रेस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मोदी सरकार के फैसले की आलोचना की। आनंद शर्मा ने कहा कि नोट बैन का मोदी सरकार का फैसला एकदम गलत है।

उन्होंने कहा कि अगर नोट बैन करना था, तो बैंकों में नई करेंसी क्यों पहले से पर्याप्त मात्रा में क्यों नहीं पहुंची, आज लोगों को भारी परेशानी के सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि लोग काम छोड़कर बैंक की लाइन में खड़े हैं।

आनंद शर्मा ने कहा कि सरकार ने इस देश के आम आदमी को ही अपराधी साबित कर दिया है। उन्होंने कहा कि क्या इस देश के आम आदमी के पास रोज थोड़ा-थोड़ा करके जोड़ा गया पैसा कालाधन है।

ATM से नए नोट निकालने के लिए उमड़ी भीड़, मशीन नहीं चलने से फूटा लोगों का गुस्सा

आनंद शर्मा ने कहा कि इन दिनों में हिन्दु समाज में सबसे ज्यादा शादियां होती हैं। आज शादियां टूट रही हैं और बारातें वापस जा रही हैं। शर्मा ने कहा कि गरीब बच्ची की शादी टूटने का जवाब कौन देगा।

आनंद शर्मा ने कहा कि इस मु्द्दे पर भाजपा अध्यक्ष भी झूठ फैला रहे हैं। उन्होंने कहा कि अमित शाह भी अपने गुरू नरेंद्र मोदी की तरह झूठे हैं।

यूपी के मिर्जापुर में गंगा में बहते मिले 1000 रुपए के फटे नोट

कई नेता जता चुके हैं नोट बैन पर आपत्ति

राहुल गांधी से पहले भी दूसरे कई राजनेता भी सरकार के फैसले पर सवाल उठा रहे हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने इसे आम जनता पर प्रहार कहा है तो पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इसे एक खराब फैसला बता चुकी हैं।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव नोट बैन का मुद्दा संसद में उठाने की बात कह चुके हैं। उन्होंने ऐसे फैसले से पहले लोगों को कुछ दिन का समय देने की मांग की है।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने 500 और 1000 के नोट को आर्थिक आपातकाल कहा है। उन्होंने इसे जनता पर बेवजह की मार कहते हुए फैसले की आलोचना की है।

RBI ने बताया 50 दिन में बदले जाएंगे 500-1,000 के नोट

पीएम मोदी ने की थी घोषणा

आपको बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार 500 और 1000 के नोट पर बैन की बात कही थी। राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम ने कहा था कि ब्लैक मनी पर प्रहार करने के लिए 1000 के नोट बंद होंगे जबकि 500 के नोट बदले जाएंगे।

पीएम ने 1000 और 500 रुपये के मौजूदा करंसी नोटों को 8 नवंबर की रात 12 बजे से बंद करने का ऐलान किया। पीएम मोदी ने कहा था कि 500 और 1000 रुपये के करैंसी नोट कानूनी रूप से मान्य नहीं रहेंगे।

पीएम मोदी ने इस बैन का उद्देश्य बताते हुए कहा कि हम जाली नोटों और करप्शन के खिलाफ जो जंग लड़ रहे हैं, इससे उस लड़ाई को ताकत मिलेगी।

500-1000 रुपये के नोट बैन के करने के सीक्रेट का खुलासा, जानिए कैसे हुई थी प्लानिंग

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Congress Vice president Rahul Gandhi in queue at SBI Parliament street
Please Wait while comments are loading...