प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देहरादून रैली के संबोधन की बड़ी बातें

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड की राजधानी देहरादून पहुंचे जहां उन्होंने चार धाम की यात्रा को जोड़ने वाले 12 हजार करोड़ रुपए के ऑल वेदर रोड प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने देहरादून में रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि ये देवभूमि है, वीरों की भूमि है, वीर माताओं की भी भूमि है। उत्तराखंड की जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जिस प्रोजेक्ट का उन्होंने शिलान्यास किया उससे यहां के लोगों को फायदा मिलेगा। ये शिलान्यास उन हजारों लोगों को श्रद्धांजलि है, जो केदारनाथ के हादसे में मारे गए। बद्रीनाथ, केदरानाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री की चार धाम यात्रा को जोड़ने वाले रोड प्रोजेक्ट से आने वाले वक्त में श्रद्धालुओं को फायदा मिलेगा। साथ ही उत्तराखंड के लोगों को भी इस प्रोजेक्ट से रोजगार मिलेगा।

modi प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देहरादून रैली के संबोधन की बड़ी बातें

'उत्तराखंड को गड्ढे से बाहर निकालने के लिए दो इंजन की जरूरत है'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अटल बिहारी बाजपेयी जी ने हमें उत्तराखंड दिया, लेकिन उत्तम उत्तराखंड बनाना हमारी जिम्मेदारी है। उत्तराखंड को गड्ढे से बाहर निकालने के लिए दो इंजन की जरूरत है। एक दिल्ली का और दूसरा इंजन देहरादून का होना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश का सामान्य व्यक्ति बेईमानों से नफरत करता है लेकिन कुछ बेईमानों ने ईमानदारों को दबाया है। मैं ईमानदारों की लड़ाई लड़ रहा हूं। 8 नवंबर को एक फैसले से एक बार में ही नकली नोट का काम जीरो हो गया। आतंकवाद की दुनिया पलभर में तबाह कर दी। पीएम मोदी ने कहा कि लोग इसी फिराक में हैं कि मौका मिल जाए तो मोदी पर टूट पड़ें, लेकिन जब तक जनता का साथ है देश को लूटने वाले उंगली नहीं उठा पाएंगे। लोग बिस्तर में नोट भरकर सोते थे इसलिए हमने 1000-500 के नोट बंद करके अच्छे-अच्छों के कपबोर्ड खोल दिए। उन्होंने स्कूटर जिक्र करते हुए कहा कि उत्तराखंड में स्कूटर भी पैसे खा जाता है। जिस स्कूटर में 5 लीटर की टंकी होती है, वह 35 लीटर पेट्रोल खाता है। पीएम मोदी ने कहा कि हमने फैसला किया कि वर्ग तीन और चार की नौकरियों में इंटरव्यू नहीं किया जाएगा हालांकि कई राज्य ऐसा नहीं कर रहे हैं। जल्द ही उत्तराखंड में बीजेपी की सरकार बनेगी तो यह काम हो जाएगा।

देहरादून में रैली के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि देश को काले धन ने बर्बाद किया और काले मन ने भी बर्बाद किया। आपने मुझे चौकीदार का काम दिया है। मैं चौकीदारी कर रहा हूं तो कुछ लोग परेशान हैं। हम विकास की नई ऊंचाइयों पर जाना चाहते हैं। आजादी के 70 साल बाद भी 18000 गांव ऐसे थे जिनमें बिजली नहीं थी। हमने संकल्प किया है कि 1000 दिन में 18,000 गांवों में पहुंचाएंगे। बिजली पहुंचाने का काम गरीबों के हक के लिए हो रहा है। उन्होंने कहा कि पहले गैस का सिलिंडर लेने के लिए नेताओं के घर के चक्कर काटने पड़ते थे। हमने तीन साल के अंदर 5 करोड़ गरीब परिवारों को गैस चूल्हा देने का जिम्मा उठाया है। उन्होंने लकड़ी के चूल्हे से एक दिन में 400 सिगरेट के बराबर धुआं मां के शरीर में जाता है। इससे निजात के लिए हमने गैस सिलेंडर देने की योजना बनाई है। वन रैंक वन पेंशन का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कई साल से हमारी सेना के जवान वन रैंक वन पेंशन की मांग कर रहे थे। चुनाव आया तो सरकार ने बजट में 500 करोड़ रुपया डाल दिया। यह सेना के जवानों की आंखों में धूल झोंकने का काम हुआ। हमने वन रैंक वन पेंशन को मंजूरी दी।

इसे भी पढ़ें:- नरेंद्र मोदी देहरादून की परिवर्तन महारैली में बोले, उत्तराखंड को बीजेपी का इंजन लगाइए

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
PM narendra modi big statements at dehradun rally.
Please Wait while comments are loading...