जयललिता और शशिकला पर आय से अधिक संपत्ति मामले में आज आ सकता है सुप्रीम कोर्ट का फैसला

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। तमिलनाडु की दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता पर आय से अधिक संपत्ति के मामले में आज सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला सुना सकता है। इस केस में जयललिता के साथ शशिकला और उनके दो रिश्तेदार वीएन सुधारन, इलावर्सी समेत 4 लोग शामिल हैं। केस की सुनवाई कर रही बेंच में शामिल जस्टिस पी सी घोष और अमिताभ रॉय 21 साल पुराने इस केस में सुबह 10.30 बजे फैसला सुना सकते हैं। फैसला शशिकला के खिलाफ गया तो मुख्यमंत्री बनने की उनकी चाह को झटका लग सकता है। जयललिता की मौत के बाद शशिकला अन्नाद्रमुक की मुखिया चुनी गई हैं। ओ पनीरसेल्वम के सीएम पद से इस्तीफे के बाद विधायक दल की मुखिया भी शशिकला ही चुनी गई हैं।

जयललिता और शशिकला पर आय से अधिक संपत्ति मामले में फैसला आज

जयललिता पर 1991 से 1996 के बीच सीएम रहने के दौरान आय से ज्यादा 66 करोड़ की प्रॉपर्टी इकट्ठा करने का आरोप था। उन पर शशिकला के साथ मिलकर 32 ऐसी फर्जी कंपनियां बनाने का आरोप था जिनका कोई बिजनेस ही नहीं था। 1996 में तत्कालीन जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने मुकदमा दायर कर आरोप लगाया था कि जयललिता ने 1991 से 1996 तक सीएम पद पर रहते हुए 66 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी इकट्ठा की थी। तब से ये मामला चल रहा है, इसमें हाइकोर्ट जयललिता को बरी भी कर चुका है।

शशिकला के लिए हो सकती है मुश्किल
तमिलनाडु में सत्ता संघर्ष के लिए शशिकला इस समय अपनी ही पार्टी के नेता और कार्यवाहक मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम के साथ जूझ रही हैं। वो तमिलनाडु की मुख्यमंत्री बनने की तैयारी कर रही हैं। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला उनके लिए बेहद अहम होगा। मामले में अगर कोर्ट शशिकला को 2 साल या उससे ज्यादा की सजा सुनाता है तो उनका मुख्यमंत्री बनने का सपना टूट सकता है। शशिकला अभी विधायक नहीं हैं। अगर वे मुख्यमंत्री बनीं तो उन्हें 6 महीने के भीतर विधायक बनना होगा। ऐसे में सजा हुई तो वो इलेक्शन नहीं लड़ पाएंगी।
पढ़ें- अपने विधायकों के साथ रात भर गोल्डन बे रिसॉर्ट में ही रहेंगी शशिकला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Supreme Court likely to deliver seperate verdicts in Jaya DA case today
Please Wait while comments are loading...