शशिकला ना बन पाएं तमिलनाडु की मुख्यमंत्री, ऑनलाइन याचिका पर लाखों ने किया साइन

AIADMK महासचिव शशिकला के तमिलनाडु का मुख्यमंत्री बनने की राह में कई रोड़े हैं। उनके खिलाफ ऑनलाइन अभियान चलाया गया है।

Subscribe to Oneindia Hindi

चेन्नई। तमिलनाडु की मुख्यमंत्री रहीं जयरामन जयललिता की सहयोगी और ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (AIADMK) की महासचिव शशिकला को विधायक दल ने अपना नेता चुना। उसके बाद मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने पद से इस्तीफा दे दिया। हालांकि शशिकला के शपथ लेने तक वो पद पर बने रहेंगे।

लेकिन एक बड़ा वर्ग भी है जो यह नहीं चाहता कि शशिकला राज्य की मुख्यमंत्री बने। इससे पहले राज्य में विपक्षी दल द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) ने कहा था कि तमिलनाडु के लिए यह काला दिन है। तमिलनाडु के लोगों ने जयललिता के करीबी को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने के लिए वोट नहीं दिया था।

ऑनलाइन अभियान शुरू

ऑनलाइन अभियान शुरू

इतना ही नहीं शशिकला को तमिलनाडु का मुख्‍यमंत्री बनने से रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल की गई थी। याचिकाकर्ता ने कहा है कि शशिकला को तब तक तमिलनाडु के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ना लेने दी जाए, जब तक उनके खिलाफ चल रहे आय से अधिक संपत्ति के मामले का फैसला नहीं हो जाता। दूसरी ओर शशिकला को मुख्यमंत्री बनने से रोकने के लिए ऑनलाइन अभियान शुरू किया गया है।

इन लोगों को भेजी जाएगी याचिका

इन लोगों को भेजी जाएगी याचिका

इस ऑनलाइन याचिका में याचिकाकर्ता तमिल असारन पीएआर की ओर से कहा गया है कि शशिकला, जिन पर कई मनी लॉन्ड्रिंग के मामले दर्ज है, उन्हें किसी भारतीय राज्य का नेतृत्व करने की इजाजत नहीं दी जानी चाहिए। याचिका में कहा गया कि तमिलनाडु सरकार को भंग किया जाए साथ ही शशिकला को तमिलनाडु का मुख्यमंत्री बनने से रोका जाए। यह याचिका भारत के राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, तमिलनाडु के राज्यपाल विद्यासागर राव और मुख्य चुनाव डॉक्टर नसीम जैदी को भेजा जाएगा। इस ऑनलाइन याचिका पर 1,64,334 लोगों ने हस्ताक्षर किए हैं।

अच्छा काम कर रहे थे पन्नीरसेल्वम्

अच्छा काम कर रहे थे पन्नीरसेल्वम्

इस ऑनलाइन याचिका पर हस्ताक्षर ने शशिकला को मुख्यमंत्री ना बनाए जाने के पीछे तमाम कारण गिनाए हैं। कुछ ने कहा कि ओ. पन्नीरसेल्वम अच्छा काम कर हे थे और उन्हें बदलने की कोई जरूरत नहीं है। रिटायर्ड मेजर सुरेश कुमार नैयर ने कहा कि पन्नीरसेल्वम के पास अपनी टीम है जो बहुत ही अच्छा काम कर रही है। बदले क्यों? नैतिक तौर पर यह सही नहीं है।

स्टालिन जाएंगे पीएम से मिलने

स्टालिन जाएंगे पीएम से मिलने

कुछ का कहना है कि शशिकला का इतिहास का अच्छा नहीं है। उन पर भ्रष्टाचार समेत तमाम आरोप है। सरस्वथी वेंकटेसन ने कहा कि अगर एक बार फिर से किसी मुख्यमंत्री को भ्रष्टाचार के आरोप भेजा गया तो यह तमिलनाडु के लिए काला दिन है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि वो चुनी हुई प्रतिनिधि नहीं है, ऐसे में उन्हें मुख्यमंत्री नहीं बनाया जा चाहिए। राज्य में नेता विपक्ष एम के स्टालिन ने शशिकला को मुख्यमंत्री बनाए जाने से रोकने के लिए वो केंद्र से हस्तक्षेप की मांग की है। साथ ही वो बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलेंगे।

चिदंबरम ने कहा- जनता और दल अलग-अलग दिशा में

चिदंबरम ने कहा- जनता और दल अलग-अलग दिशा में

कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने कहा कि तमिलनाडु की जनता और AIADMK विपरीत दिशा में जा रहे हैं। ट्वीट कर चिदंबरम ने कहा है कि यह AIADMK के विधायकों का अधिकार है कि वो अपना नेता चुन सकें। यह जनता का भी हक वो उस नेता को मु्ख्यमंत्री की मांग करे जो वाकई उस लायक हो। वहीं राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के विचारक एस गुरुमूर्थी ने ट्वीट कर कहा कि शशिकला नई मुख्यमंत्री। कोई खुशी नहीं है। कोई पटाखे। कोई बधाई नहीं। पूरी तरह से शांति है। ऐसा शख्स कभी नहीं देखा जो पार्टी के बाहर और अंदर, सीएम बनने पर इस तरह से लोग इस तरह से नफरत करते हों।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Online petition against Sasikala as Tamil Nadu Chief minister,Aiadmk.
Please Wait while comments are loading...