जानें क्यों जरूरी होता हैं बैंक अकाउंट के लिए नॉमिनी, क्या हैं इसके फायदे

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नयी दिल्ली। अगर आप बैंक अकाउंट या पीएफ अकाउंट या फिर कोई बीमा लेते हैं तो आपसे नॉमिनेशन फॉर्म भरवाया जाता है। नोमिनेशन फॉर्म के जरिए आप अपने पैसों के वारिश की घोषणा करते हैं। ये नॉमिनी आपके परिवार का कोई सदस्य, दोस्त या आपका जानने वाला हो सकता है। अगर गलत अकाउंट में चला जाए पैसा तो ऐसे पाएं अपना पैसा वापस

bank

नॉमिनी की घोषणा से पहले आपको बस इस बात का ख्याल रखना होता है कि जिस व्यक्ति को आप अपना नॉमिनी बना रहे हैं आपकी मौत के बाद आपकी संपत्ति को संभालने के काबिल हो। ऐसे में ये जानना बेहद जरूरी है कि नॉमिनेशन फॉर्म की बैंक अकांउट खुलवाते समय क्या जरूरत हैं और इसके क्या फायदे हैं, इसके बारे में जानना बेहद आवश्यक हैं। आज हम आपको बता रहे हैं नोमिनेशन फॉर्म की जरूरत और इसके फायदे क्या हैं?

अगर आपके पास है सैलरी अकाउंट तो जरूर जान लें ये बातें...

बैंक अकाउंट नाॉमिनेशन की क्यों होती है जरूरत?

  • नॉमिनेशन का मकसद होता है अपना वारिश घोषित करना।
  • अकाउंट होल्डर की मौत के बाद उन पैसों का वारिश कौन होगा, इसे घोषित करना।
  • बैंक अकाउंट खोलते वक्त आप जिसे अपना नॉमिनी बनाते हैं वहीं आप के पैसों का अधिकारी हो जाता है।
  • आप अपनी सुविधा के मुताबिक एक से अधिक नॉमिनी बना सकते हैं।
  • एक से अधिक नॉमिनी बनाने पर आप को उनके बीच हिस्सेदारी बतानी होगी।
  • एक नॉमिनी रखने पर भी आपको उसे मिलने वाले हिस्से के बारे में पहले ही घोषणा करना होता है।
  • आप किसी भी वक्त अपने नॉमिनी को बदल सकते हैं।
  • इसके लिए आपको फॉर्म डीए2 भरना होगा और पहले बनाए गए मौजूदा नॉमिनी का नॉमिनेशन रद्द करना होगा।
  • फिर दोबारा से नॉमिनेशन फॉर्म भरकर नए नॉमिनी की घोषणा करनी होगी।
देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Nomination is the process of appointing a person to take care of your assets in the event of your death. You can appoint a nominee for your bank account, fixed deposit, demat account, or even your house.
Please Wait while comments are loading...