किंगफिशर चिड़िया की तरह फुर्र हो गए माल्या: बॉम्बे हाईकोर्ट

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बैकों का हजारों करोड़ रुपए लेकर ब्रिटेन फरार हो चुके शराब कारोबारी विजय माल्या को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट ने टिप्पणी की है। कोर्ट ने कहा कि माल्या ने अपनी कंपनी का नाम बहुत सोच-समझ कर रखा और किंगफिशर चिड़िया की भांति ही वो फुर्र हो गए।

vjay Mallya

जस्टिस एससी धर्माधिकारी और बीपी कोलाबवाला की बेंच ने सर्विस टैक्‍स डिपार्टमेंट द्वारा दायर की गई अपील पर सुनवाई करते हुए कहा कि माल्या सीमाओं की परवाह किए बिना किंगफिशर चिड़िया की भांति देश से उड़ गए।

माल्या मामले की सुनवाई के दौरान जज ने कहा कि माल्या ने अपनी कंपनी का एकदम सटीक रखा। जैसे किंगफिशर चिड़‍िया उड़कर कहीं भी जा सकती है। जैसे उसे कोई सीमा नहीं रोक सकती वैसे ही माल्या को भी देश से भागने में कोई रोक नहीं सका।

बॉम्बे हाईकोर्ट में सर्विस टैक्‍स डिपार्टमेंट की अपील पर सुनवाई की गई। अपनी याचिका में सर्विस टैक्स डिपार्टमेंट ने आरोप लगाते हुए कहा है कि माल्या पर उनका 532.68 करोड़ रुपये का बकाया है। वहीं 32.68 करोड़ रुपए सिर्फ अप्रैल 2011 से सितंबर 2012 के बीच किंगफिशर एयरलाइंस के पैसेंजरों के टिकट बिक्री को लेकर बकाया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The Bombay High Court observed that businessman Vijay Mallya aptly named his company 'Kingfisher', as like the bird of the same name he too flew away without bothering about boundaries.
Please Wait while comments are loading...