नोटबंदी का दिखा असर, 39 महीने के सबसे निचले स्तर पर रुपया

8 नवंबर से शुरू की गई नोटबंदी अब अपना असर दिखा रही है।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। 8 नवंबर को घोषित की गई नोटबंदी का असर शेयर बाजार के बाद रुपये पर भी दिखना शुरू हो गया है।

बृहस्पतिवार को दिन की शुरूआत में रुपया 28 पैसे कम हो कर 68.86 के स्तर पर आ गया। माना जा रहा है कि विदेशी निवेशों की निकास के कारण गिरावट हुई।

rupee

मछुआरे के बेड में मिला दुनिया का सबसे बड़ा, 670 करोड़ रुपए का मोती

3 साल पहले ये था स्तर

बता दें कि बुधवार (23 नवंबर ) को रुपया अपने निचले स्तर 68.85 पर था। इसस पहले रुपया 28, अगस्त 2013 को 68.60 के स्तर पर बंद हुआ था।

दिग्विजय सिंह बोले- रुपए की कीमत गिरने पर क्या कहेंगे मोदी?

रुपए की गिरावट के संबंध में विशेषज्ञों का मानना है कि यह अगले कुछ महीनों में 70 रुपए प्रति डॉलर तक भी जा सकता है।

रुपए की इस गिरावट पर कहा जा रहा है कि महीने के अंत में डॉलर की बढ़ी मांग, विदेशी कोषों से लगातार हो रही निकासी और अमेरिकी केंद्रीय बैंक द्वारा ब्याज दरों के बढ़ाए जाने की संभावना से भी रुपए को नुकसान हुआ है।

जारी है विदेशी निवेश का निकास

गौरतलब है कि 500 और 1,000 रुपए की करेंस को विमुद्रीकृत करने के फैसले के बाद से ही विदेशी निवेश की निकासी जारी है।

10 रुपए का नकली सिक्का है अफवाह, यकीन नहीं तो खुद ही पढ़ लें

साथ ही अमेरिका में डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद भी रुपए की कीमत पर 2.92 फीसदी असर पड़ा था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rupee hits record low of 68.86 by plunging 30 paise against US currency
Please Wait while comments are loading...