500-1000 के नोट पर बैन: स्नैपडील-अमेजन ने बंद की कैश ऑन डिलीवरी ऑप्शन

ई-कॉमर्स कंपनियां अमे‍जन, स्नैपडील, फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियों ने कैश ऑन डिलीवरी विकल्‍प को बंद कर दिया है।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा 500 और 1000 के नोट बंद किए जाने के बाद अब इसका असर दिख ने लगा है। इस बैन के बाद ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट फ्लिपकार्ट, अमेजन और स्‍नैपडील जैसी बड़ी कंपनियों ने कैश ऑन डिलीवरी के ऑप्शन बंद कर दिए हैं। अगर आपका नहीं है बैंक अकाउंट तो ऐसे बदलें 500 और 1000 के नोट

shopping

यहां चलेंगे आपको 500-1000 के नोट

सरकार द्वारा कुछ कास जगहों को छोड़कर 500 और 1000 के नोट को 8 नवंबर की रात 12 बजे से ही स्थगित कर दिया है। जरुरी सेवा जैसे अस्पताल, पेट्रोल पंप, मेट्रो स्टेशन, दवाई की दुकानों पर 11 नवंबर तक ये नोट वैध होंगे और उसके बाद यहां भी गैर कानूनी हो जाएंगे। सरकार ने लोगों को अपने नोट बदलने के लिए 31 दिसंबर तक का वक्त दिया है। सरकार के इस फैसले से लोगों के पास कैश की दिक्कत हो गई है।

कैश ऑन डिलीवरी बंद

ऐसे में ई-कॉमर्स कंपनियां अमे‍जन, स्नैपडील, फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियों ने कैश ऑन डिलीवरी विकल्‍प को बंद कर दिया है। अगर आप इन वेबसाइटों से शॉपिंग के लिए कैश ऑन डिलीवरी का विक्लप चुनेंगे तो आपके सामने एक मैसेज आएगा, जिसमें लिखा है कि हमने कैश ऑन डिलीवरी को स्‍थगित कर दिया है ताकि आपके पास जरूरी पेमेंट्स के लिए कैश बचा रहे।

वहीं स्नैपडील से कैश ऑन डिलीवरी का विकल्प चुनने पर आपके सामने संदेश लिखकर आता है कि चूंकि 500-1000 रुपए के नोट्स बंद कर दिए गए हैं, इसलिए सही मूल्‍य के नोट ही डिलीवरी के वक्त दें।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rs. 500-1000 Note Gone, Amazon Disables Cash on Delivery, Flipkart and Snapdeal Also Limiting CoD.
Please Wait while comments are loading...