जानिए क्‍यों 2000 रुपए का नोट घर में रखना हो सकता है घाटे का सौदा?

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। पुणे स्थित संस्‍था अर्थक्रांति के अर्थशास्‍त्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इनकम टैक्‍स को खत्‍म कर बैंकिंग ट्रांजिक्‍शन टैक्‍स लगाने की बात कही है।

2000 rupee note

पीएम मोदी अर्थक्रांति के टैक्‍स रिफॉर्म से जुड़े पांच बिंदुओं को लागू करें

अर्थक्रांति के मुताबिक अगर टैक्‍स घट जाएंगे तो पेट्रोल की कीमत 28 रुपए प्रति लीटर हो सकती है। सोचिए कितना अच्‍छा होगा तब। अर्थक्रांति का मतलब है वित्‍तीय और आर्थिक क्रांति। इस समूह को चलाने वाले लोग मुख्‍य रूप से टेक्‍नोक्रेट और चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं। अर्थक्रांति ने इससे पहले वर्ष 1999 में पांच बिंदुओं पर टैक्‍स रिफॉर्म की बात कही थी। अर्थक्रांति संस्‍था ने 11-13 नवंबर तक पुणे में एक बैठक का आयोजन किया था। इस बैठक में यह मांग की गई कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अर्थक्रांति के टैक्‍स रिफॉर्म से जुड़े पांच बिंदुओं को लागू करें।

10 महीने में विमुद्रीकरण की योजना बनी

अर्थक्रांति संस्‍था के मुताबिक वर्ष 2015 से हमारे सदस्‍य पीएमओ ऑफिस से लगातार संपर्क में हैं। साथ ही पीएमओ ऑफिस से इस बारे में लगातार बातचीत की जाती रही है। अर्थक्रांति के मुताबिक औरंगाबाद में रहकर काम करने वाले चार्टर्ड एकाउंटेंट अनिल बोकिल से 9 मिनट की मुलाकात इस साल जुलाई में हुई थी। पर बाद में पीएम मोदी और अनिल बकोली ने 90 मिनट तक विमुद्रीकरण पर मुलाकात की थी। प्रधानमंत्री बनने से पहले मोदी से भी यह संस्‍था वर्ष 2013 में मिल चुका था। आपको बताते चलें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को बेलगम में कहा था कि कुछ लोगों के समूह ने पिछले 10 महीने में विमुद्रीकरण की योजना को लांच करने की योजना बनाई।

नोट बदलवाने के दौरान उंगली में स्‍याही लगाने पर भड़की ममता बनर्जी

2000 रुपए के नोट को भी बंद कर दिया जाए

अर्थक्रांति संस्‍था चाहती है कि देश में सभी तरह के टैक्‍स खत्‍म हो जाएं और सिर्फ आयात और कस्‍टम शुल्‍क को जारी रखा जाना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500-1000 के नोट बंद करने के बाद अब यह संस्‍था यह उम्‍मीद लगाए है कि जल्‍द ही पीएम मोदी हमारे टैक्‍स रिफॉर्म से जुड़े अन्‍य चार बिंदुओं को भी लागू करेंगे।

यह संस्‍था चाहती है कि आने वाले समय में 2000 रुपए के नोट को भी बंद कर दिया जाए। संस्‍था का मानना है कि 1000,500,100 सभी के नोट बंद हो जाने चाहिए। संस्‍था ने सलाह दी है कि सभी अधिक मूल्‍य के ट्रांजेक्‍शन ऑनलाइन ही होने चाहिए। साथ ही पैसे निकालने को भी सीमित किया जाना चाहिए। साथ ही बैंकिंग ट्रांजिक्‍शन टैक्‍स के जरिए मिलने वाले रुपए को केंद्र, राज्‍य, नगर निकाय और पंचायत में आपस में बांट दिया जाए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
recently issued Rs 2,000 currency note to be withdrawn in near future
Please Wait while comments are loading...