रिजर्व बैंक ने घटाया रेपो रेट, अब कम हो सकती है आपकी EMI

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। आरबीआई के नए गवर्नर उर्जित पटेल ने मौद्रिक नीति की समीक्षा करते हुए रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कमी की है। आरबीआई ने रेपो रेट अब 6.25 फीसदी कर दी है जोकि पहले 6.50 फीसदी थी।

urjit

उर्जित पटेल की अध्यक्षता में हुई मौद्रिक नीति समिति की बैठक

रघुराम राजन की जगह आरबीआई के नए गवर्नर का पद संभालने वाले उर्जित पटेल की अध्यक्षता में पहली मौद्रिक नीति की समीक्षा पेश गई। जिसमें रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कमी की गई है।

पेट्रोल और डीजल के बढ़ने वाले हैं दाम, हो जाइए तैयार

इसके साथ ही अब आपकी ईएमआई में कमी के आसार बन रहे हैं। आरबीआई के इस फैसले के बाद बैंक ब्याज दरों में कटौती कर सकते हैं। इससे लोगों को मिलने वाला लोन सस्ता हो सकता है और लोगों की ईएमआई भी कम हो सकती है।

मौद्रिक नीति की समीक्षा करने वाली कमेटी के सभी छह सदस्यों ने रेपो रेट में कटौती किए जाने के पक्ष में अपना वोट दिया है। आरबीआई ने उम्‍मीद जताई है कि देश में खुदरा महंगाई दर 5 फीसदी के स्‍तर पर रहेगी।

रेपो रेट में कटौती का मिलेगा आपको फायदा

आरबीआई के मुताबिक इस साल देश की विकास दर 7.6 फीसदी रहने का अनुमान है और अगले वर्ष 2017 में यह विकास दर 7.9 फीसदी रहने का अनुमान है।

जानिए, आखिर क्यों पाकिस्तानी मीडिया के हीरो बन गए हैं केजरीवाल

हालांकि इससे पहले संभावना इस बात की थी कि इस बार ब्याज दरों में ज्यादा बदलाव नहीं किया जाएगा। मौद्रिक नीति की समीक्षा में पॉलिसी रेट को पहले जैसा ही रखा जा सकता है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

इस बार भारतीय रिजर्व बैंक ने अपनी मौद्रिक नीति की समीक्षा पेश करने का समय भी बदलकर दोपहर कर दिया था। जिसकी वजह इस बार 2.30 बजे के बाद इसे सबके सामने पेश किया गया।

काफी समय से रिजर्व बैंक 11 बजे से मौद्रिक नीति की समीक्षा पेश करता रहा है। इस बार आरबीआई ने अपनी वेबसाइट पर बताया था कि मौद्रिक नीति की समीक्षा (एमपीसी) का प्रस्ताव दोपहर ढाई बजे सबके सामने आएगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Urjit Patel, who replaced Raghuram Rajan as RBI Governor, chairs first policy review.
Please Wait while comments are loading...