टाटा समूह के चेयरमैन पद से हटाए जाने के बाद कोर्ट जाएंगे साइरस मिस्‍त्री

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। टाटा समूह के चेयरमैन पद से अचानक हटाए जाने के फैसले से साइरस मिस्त्री नाखुश हैं। मिस्त्री के साथ-साथ टाटा संन्स के सबसे बड़े शेयर होल्डर शापूरजी और पालोनजी ग्रुप भी इस फैसले के खिलाफ हैं। टाटा के इस फैसले से नाराज साइरस मिस्त्री कोर्ट का दरवाजा खटखटाने का मन बना रहे हैं।

cyrus mistry

टाटा के 18 प्रतिशत शेयर के मालिक पालोनजी ग्रुप ने भी साइरस मिस्‍त्री को चेयरमैन के पद से इस तरह हटाए जाने के फैसले पर अपनी नाराजगी जताई। उन्होंने इसे अवैध बताते हुए कहा कि वो इस फैसले को कानूनी चुनौती देंगे। माना जा रहा है कि वो इस फैसले के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटा सकते हैं।

वहीं टाटा समूह ने भी इसकी तैयारी पहले से कर ली है। टाटा ने सीनियर ऐडवोकेट्स हरीश एन. साल्वे और अभिषेक मनु सिंघवी को ऐसे किसी भी मामले से निपटने के लिए पहले ही हायर कर लिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The removal of Cyrus Mistry as chairman of the $100-billion Tata group appeared set to face a legal challenge, with its largest individual shareholder saying it will contest the decision in court.
Please Wait while comments are loading...