नुस्ली वाडिया ने टाटा संस-रतन टाटा के खिलाफ दर्ज किया आपराधिक मानहानि का मुकदमा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कारोबारी नुस्ली वाडिया ने टाटा संस और इसके अंतरिम चेयरमैन रतन टाटा के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर किया है। एक दिन पहले ही उन्हें टाटा मोटर्स के निदेशक पद से हटाया गया था। जिसके बाद उन्होंने ये कदम उठाया।

नुस्ली वाडिया ने टाटा संस-रतन टाटा के खिलाफ किया मानहानि का मुकदमा

नुस्ली वाडिया ने दर्ज कराया आपराधिक मानहानि का मुकदमा

नुस्ली वाडिया की शिकायत में कहा गया है कि टाटा संस, रतन टाटा और बोर्ड की ओर से अलग-अलग और सामूहिक तौर पर उनकी छवि खराब करने की कोशिश की। उनके खिलाफ झूठी, आधारहीन, गलत और अपमानजनक खबरें छापी और प्रसारित की गई। इस पूरी कवायद का मकसद उनकी साख गिराना था।

समझौते के मूड में नहीं है मिस्त्री, टाटा विवाद लेकर पहुंचे ट्राइब्यूनल

72 वर्षीय नुस्ली वाडिया, वाडिया ग्रुप ऑफ कंपनीज के चेयरमैन हैं। टाटा ग्रुप की तीन कंपनियों टाटा स्टील लिमिटेड, टाटा मोटर्स लिमिटेड, टाटा केमिकल्स लिमिटेड के निदेशक मंडल में स्वतंत्र निदेशक थे।

बता दें कि 22 दिसंबर को ही टाटा मोटर्स के शेयरहोल्डर्स ने नुस्ली वाडिया को स्वतंत्र निदेशक के पद से हटाने के लिए वोट किया था। ये वोटिंग एक्स्ट्रा ओर्डिनरी जनरल मीटिंग (ईजीएम) के दौरान हुई।

वाडिया ग्रुप ऑफ कंपनीज के चेयरमैन हैं नुस्ली वाडिया

जानकारी के मुताबिक वोटिंग के समय नुस्ली वाडिया वहां मौजूद नहीं थे। उन्हें पत्र भेजकर मामले की जानकारी दी गई। इससे पहले नुस्ली वाडिया को टाटा स्टील के स्वतंत्र निदेशक पद से भी हटा दिया गया था।

रतन टाटा ने कहा, टाटा ट्रस्ट्स के मुखिया का पद छोड़ने का अभी कोई इरादा नहीं

बता दें कि इससे पहले भी नुस्ली वाडिया ने टाटा संस के खिलाफ मानहानि का दावा करते हुए नोटिस भेजा था। नुस्ली वाडिया करीब एक दशक से टाटा केमिकल्स, टाटा स्टील और टाटा मोटर्स के स्वतंत्र चेयरमैन थे। नुस्ली वाडिया पर आरोप था कि वह टाटा ग्रुप के पूर्व चेयरमैन सायरस मिस्त्री को मदद मुहैया करा रहे थे।

कुल मिलाकर टाटा संस में जारी घमासान थमता नहीं दिख रहा है। इससे पहले 24 अक्टूबर को टाटा संस की तरफ से टाटा ग्रुप के तत्कालीन चेयरमैन सायरस मिस्त्री को चेयरमैन पद से हटा दिया था।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Nusli Wadia files criminal defamation case against Tata Sons, Ratan Tata.
Please Wait while comments are loading...