भारत जल्द ही पेट्रोलियम पदार्थों का आयात करना बंद कर देगा- गडकरी

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि केंद्र सरकार पेट्रोलियम ईंधन के विकल्पों को विकसित कर रही है। जिससे भारत जल्द ही पेट्रोलियम पदार्थों का आयात करना बंद कर देगा।

nitin gadkari

गडकरी ने यह बात मेथेनॉल इकॉनमी पर नीति आयोग की ओर से आयोजित किए गए कार्यक्रम में बोल रहे थे।

सुशील कुमार को मिल सकता है पद्म भूषण, इन खिलाड़ियों के नाम की भी सिफारिश

खर्च होते हैं 4.5 लाख करोड़

इस दौरान गडकरी ने इस बात की जानकारी जी ति भारत फिलहाल करीब 4.5 लाख करोड़ रुपए कच्चा तेल के आयात पर खर्च करता है।

जानें, मोदी के मंत्रियों ने ऑफिस के रेनोवेशन पर कितना किया खर्च

बीते कुछ वक्त से कच्चे तेल के दाम वैश्विक स्तर पर कम हैं नहीं तो यह खर्च 7.5 लाख करोड़ रुपए तक का होता है लेकिन अब सरकार इसे कम करने पर जोर दे रही है।

उन्होंने कहा कि ईंधन का आयात कम करने के लिए एथेनॉल,मेथेलॉल और बायो सीएनजी के विकल्पों पर ध्यान देकर विकसित किया जा रहा है।

खेती का हो विविधिकरण

गडकरी ने कहा कि अब वक्त है कि खेती का विविधिकरण किया जाए क्योंकि खेती से ही इन उत्पादों को पाया जा सकता है।

भारतीय राजदूत ने पाक से कहा अपनी समस्‍याओं को पहले सुलझाएं

गडकरी ने कहा कि उन विकल्पों पर ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है जो अमूमन किसान की नजर में बेकार होते हैं। इनमें धान और गेहूं का भूसा शामिल है।

सरकार भूसे से एथेनॉल बनाने की तैयारी में है। साथ ही बांस से भी एथेनॉल प्राप्त करने पर भी काम किया जा रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Nitin Gadkari said India will soon be zero petroleum import country.
Please Wait while comments are loading...