भारत की बड़ी कंपनी ने 14000 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला

एलएंडटी ने 14000 कर्मचारियों को निकाला, कंपनी ने प्रतिस्पर्धा के लिए बताया जरूरी।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। भारत की बहुराष्ट्रीय कंपनी लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) ने बड़े स्तर पर अपने कर्मचारियों की छटनी की है। कंपनी ने एक छमाही में 14000 कर्मचारियों को निकाला है।

job

मंदी का सामना जूझ रही इंजीनियरिंग क्षेत्र की बड़ी कंपनी एलएंडटी ने इस साल अप्रैल-सितंबर की छमाही में अपने अलग-अलग विभागों से14000 कर्मचारियों को काम से निकाल दिया है। कपंनी के सीनियर अधिकारियों का कहना है कि ये कंपनी को खुद को संभालने के लिए ये कदम उठाना पड़ा है।

इस बार प्लेसमेंट के लिए IIT और IIM नहीं जाएगा फ्लिपकार्ट

कंपनी के अनुसार, कंपनी जिस तरफ जाना चाह रही है, उसमें भटकाव दिख रहा था। इसमें कुछ कर्मचारियों को कम करना जरूरी था। ऐसे में कुछ लोगों को हटाया गया है। कंपनी ने इसे अपने विभिन्न कारोबारों में प्रतिस्पर्धी बने रहने की कोशिश कहा है।

कंपनी के मुख्य वित्त अधिकारी आर शंकर रमन ने कहा कि रणनीति के तहत ये फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि कारोबार को पटरी पर लाने और मुनाफा बढ़ाने के लिए छटनी जरूरी थी।

यहां नौकरी के लिए लड़कियों को देना होता है वर्जिनिटी टेस्ट

आर शंकर रमन ने बताया कि हमारे विभिन्न कारोबारों में 1.2 लाख कर्मचारी काम करते हैं। इस साल वित्त वर्ष की पहली छमाही (अप्रेल से सितंबर) में 14000 लोगों को काम से निकाला गया है।

लार्सन एंड टर्बो भारत की एक बहुराष्ट्रीय कंपनी है। जिसका शुरुआत 1938 में हुई थी। कंपनी कई क्षेत्रो में काम करती है। खासतैर से इंजीनयरिंग में एसएंडटी का बहुत नाम है। इसके अलावा इंफोर्मेशन टैक्नोलोजी, कंस्ट्रक्शन और उत्पादन के क्षेत्र में भी काम करती है।

अगर आप भी हैं नौकरीपेशा तो पढ़िए सैलरी से जुड़ी ये खुशखबरी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Larsen and Toubro fires 14 000 employees in six months
Please Wait while comments are loading...