तो इस तरह काम करेगी डिजिटल पेमेंट पर इनाम की योजना

केंद्र सरकार देश की जनता को कैशलेस तरीकों की ओर बढ़ने और प्रोत्साहित करने के लिए योजना लाई है।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। देश के लोग स्मार्ट शॉपिंग का हिस्सा बनें, डिजिटल दुनिया से जुड़ें इसके लिए सरकार ने प्रोत्साहित करने के लिए योजना जारी की है। बृहस्पतिवार शाम एक प्रेस वार्ता में नीति आयोग के अधिकारी अमिताभ कांत ने योजना की घोषणा की।

तो आईए आपको बताते हैं कि सरकार की ओर से लोगों को डिजिटल पेमेंट और कैशलेस इंडिया बनाने के लिए योजना के तहत क्या-क्या फैसले लिए गए हैं।

 digital-transaction-india-1-15-1481802759.jpg -Properties

यह है योजना का नाम

वित्त सचिव बोले, कैश की समस्या से निपटने की कवायद जारी

  • आयोग की ओर से लकी ग्राहक योजना और डिजि धन व्‍यापारी योजना को लॉन्च किया गया है। यह योजना नोटबंदी के 37 वें दिन लाई गई है। इसके योजना के तहत ग्राहकों और व्यापारियों दोनों को इनाम दिया जाएगा।
  • जानकारी के मुताबिक भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) क्रिसमस के बाद 15,000 लोगों को अगले 100 दिनों तक 1,000 रुपए का इनाम देगा।
  • बताया गया कि अगले साल 14 अप्रैल को मेगा अवार्ड की घोषणा होगी। इसके अंतर्गत उपभोक्ताओं को क्रमश: 1 करोड़, 50 लाख और 25 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा। ये सभी इनाम सिर्फ डिजिटल पेमेंट करने वालों को दिए जाएंगे।

ये लोग किए जाएंगे शामिल

नोटबंदी, भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ सिर्फ छद्म युद्ध: योगेन्द्र

  • बताया गया कि इसमें वही लोग शामिल किए जाएंगे जो 50 रुपए से अधिक और 3,000 रुपए से कम का डिजिटल पेमेंट करेंगे।
  • अमिताभ कांत के मुताबिक इस योजना पर 340 करोड़ रुपए खर्च होने की संभावना है। उन्होंने जानकारी दी कि इस स्कीम में उन्हीं लोगों को शामिल किया जाएगा जो रुपे कार्ड,UPI ,USSD और AEPS आधरित डिजिटल पेमेंट करेगा।
  • बताया गया कि वो व्यापारी जो डिजिटल ट्रांजेक्शन करेंगे वो प्रति सप्ताह रुपए 50,000, रुपए 5,000 और रुपए 2,500 का प्राइज जीत सकते हैं।
  • अमिताभ कांत ने प्रेसवार्ता में जानकारी दी कि व्यापारियों के लिए 14 अप्रैल 2017 को मेगा प्राइज के तहत रुपए 50 लाख, रुपए 25 लाख और रुपए 12 लाखा का इनाम दिया जाएगा।

ये ट्रांजेक्शन नहीं है शामिल

डिजिटल पेमेंट को बढ़ाने के लिए सरकार ने निकाली योजना, विजेता को मिलेंगे 1 करोड़ रुपए

  • जानकारी दी गई कि इस योजना में क्रेडिट कार्ड और ई-वॉलेट के जरिए किए गए ट्रांजेक्शन शामिल नहीं किए गए हैं।
  • अमिताभ ने इस दौरान कहा कि इस योजना का फोकस गरीब, मध्य वर्गीय लोगों और व्यापारियों पर होगा, जो डिजिटल ट्रांजेक्शन करना चाहते हैं।
  • इस योजना के तहत पहला ड्रा 25 दिसंबर के दिन निकाला जाएगा। साथ ही इसके तहत 8 नवंबर 2016 से ही ट्रांजेक्शन्स की लिस्ट देखी जाएगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
How NITI Aayog's lucky draw will work
Please Wait while comments are loading...