नोटबंदी पर मोदी सरकार ने इतनी बार बदले नियम कि नहीं गिन पाएंगे उंगलियों पर

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सोमवार को सरकार ने 5000 रुपए से अधिक पैसे जमा करने पर नियम कड़े कर दिए। नए नियम के तहत अब आप 5000 रुपए से अधिक के पुराने नोट 30 दिसंबर तक सिर्फ एक बार ही जमा कर सकेंगे। साथ ही 5000 रुपए से अधिक के पुराने नोट जमा करने पर आपसे सवाल-जवाब भी किए जाएंगे।

money

छोटे कारोबारियों को सरकार ने दी राहत, रखी एक खास शर्त

आपको बता दें कि नोटबंदी की घोषणा के बाद से ही सरकार लगातार नियमों में बदलाव कर रही है। सोमवार को सरकार ने 59वीं बार नियम में बदलाव करते हुए 5000 रुपए से जुड़ा नियम लागू किया है।

नोटबंदी की घोषणा का सोमवार को 41वां दिन था। महज 41 दिनों में सरकार ने नोटबंदी की घोषणा को लेकर 59 बार नियम जारी किए हैं। सरकार द्वारा नियम में इनते अधिक बदलाव करने से एक बात से साफ है कि सरकार को यह अंदाजा नहीं था कि लोगों पर नोटबंदी की घोषणा का क्या असर होगा।

सरकार ने क्यों बदला नोट जमा करने का नियम, जानिए पीछे का गणित

आपको बता दें कि सरकार ने पुराने 500 और 1000 रुपए के नोटों को बदलने के लिए 30 दिसंबर की अन्तिम तारीख निश्चित की थी, लेकिन इस बीच में सरकार की तरफ से एक, दो या तीन नहीं, बल्कि 59 बार नियम बदले गए। सरकार ने इतनी बार नियम बदले हैं कि लोग उंगलियों पर भी नियमों को नहीं गिन सकते हैं।

वहीं दूसरी ओर, सरकार द्वारा बार-बार नियम बदले जाने से आम जनता को ही परेशानी हो रही है। वहीं विरोधी पार्टियां भी मोदी सरकार पर इस बात को लेकर निशाना साध रही हैं कि सरकार खुद ही कन्फ्यूज है।

कालेधन को लेकर 72 घंटें में सरकार को आए 4000 ईमेल

विरोधी पार्टियों का कहना है कि मोदी सरकार खुद ही नहीं समझ पा रही है कि क्या करें। ऐसे में वह लगातार नियम पर नियम बदलती जा रही है और आम जनता को परेशान कर रही है।

अभी नोटबंदी के तहत पुराने नोट बदले जाने की सीमा खत्म होने में 10 दिन बचे हैं। देखना ये होगा कि क्या सरकार अभी और किसी नियम में बदलाव करती है या नहीं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
government given 59 orders till date in demonetisation
Please Wait while comments are loading...