फ्लिपकार्ट के विज्ञापन में गोरखा चौकीदार दिखाने पर विवाद, कोर्ट पहुंचा मामला

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। फ्लिपकार्ट कंपनी ने हाल ही में एक नया टीवी विज्ञापन निकाला। इसमें एक बच्चे को गोरखा चौकीदार ड्रेस में दिखाया गया है।

इतना ही नहीं उस बच्चे के सिर पर नेपाली टोपी भी है। इस विज्ञापन के टीवी पर आने के साथ ही इसका विरोध शुरू हो गया।

Flipcart

गोरखा समाज ने विज्ञापन पर जताया ऐतराज

गोरखा समाज ने इस टीवी विज्ञापन को लेकर नाराजगी जाहिर की है। उनका कहना है कि इस विज्ञापन के जरिए उनके समाज की तस्वीर पेश की जा रही है। इतना ही नहीं गोरखा समाज इस मामले को कोर्ट में लेकर पहुंच गए हैं।

रिलायंस जियो का असर: एयरटेल ने 4जी डाटा पैक्स के घटाए दाम

इस बीच खबर है कि फ्लिपकार्ट ने विवाद के बाद इस विज्ञापन के प्रसारण पर रोक लगाते हुए इसमें जरूरी बदलाव किया है। बताया जा रहा है कि जिन हिस्सों पर विवाद है उसे हटा दिया गया।

दिल्ली में गोरखा समाज के सदस्यों ने इस विज्ञापन पर नाराजगी जताते हुए तीस हजारी कोर्ट में याचिका दाखिल की है। इसमें कंपनी के संस्थापक संजय बंसल और बिन्नी बंसल को आरोपी बनाया गया है।

तीस हजारी कोर्ट में दायर की याचिका

उन्होंने गोरखा समुदाय की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने को लेकर धारा 154 (ए) और (बी) के तहत आपराधिक मानहानि का मामला दर्ज कराया है।

सुप्रीम कोर्ट में बैंकों ने कहा, माल्या ने जानबूझकर नहीं किया पूरी सम्पत्ति का खुलासा

इससे पहले गोरखा यूथ एंड स्टूडेंट्स एसोसिएशन (जीवाईएएसए) ने कंपनी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

गोरखा समाज ने विज्ञापन के लिए कंपनी पर नस्लवाद फैलाने का आरोप लगाया है उनका मांग है कि कंपनी इस विज्ञापन के लिए माफी मांगे।

कंपनी पर नस्लवाद और जातिवाद फैलाने का आरोप

बता दें कि फ्लिपकार्ट ने 'एस्यूर्ड फ्लिपकार्ट' नाम से नई ऐड सीरीज शुरू की है। इसमें बच्चों को बड़े के रूप के दिखाया गया।

यहां की सरकार युवाओं को उनके 18वें जन्मदिन पर देगी 37 हजार रुपये

इसी सीरीज में एक बच्चे को बड़ा दिखाते हुए चौकीदार के तौर पर दर्शाया गया है। इसी को लेकर गोरखा समाज गुस्से में है।

इस बीच फ्लिपकार्ट ने विरोध को देखते हुए अपने विज्ञापन में सुधार किया है। विवादित हिस्से को हटाकर नए विज्ञापन को सोशल मीडिया में जारी किया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Gorkha community members have filed a petition against Flipkart ad, they say portrays the community in bad light.
Please Wait while comments are loading...