भले ही आप मुफ्त में चलाएं इंटरनेट, लेकिन कंपनियां कमाएंगी 80 हजार करोड़ रुपए

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। हाल ही में मुकेश अंबानी ने रिलायंस जियो के तहत इंटरनेट से लेकर कॉलिंग तक के सभी फीचर मुफ्त में मुहैया कराने शुरू कर दिए हैं। रिलायंस जियो पूरी तरह से 4जी आधारित नेटवर्क है। जहां एक ओर आम जनता के लिए यह एक फायदे का सौदा है, वहीं दूसरी ओर केपीएमजी-एसोचैम की रिपोर्ट के मुताबिक आने वाले चंद सालों में 4जी की बदौलत कंपनियां 80,000 करोड़ रुपए कमाएंगी।

money

रिपोर्ट में मुकेश अंबानी की तरफ से उठाए गए रिलायंस जियो के कदम को भी काफी अहम बताया गया है। रिपोर्ट के अनुसार, 2020 तक हाईस्पीड 4जी कनेक्शन चलाने वाले लोग कुल इंटरनेट चलाने वाले लोगों का 17 फीसदी हो जाएंगे। यही कारण है कि आने वाले चंद सालों 4जी से कंपनियों की कमाई में भी जबरदस्त बढ़ोत्तरी होगी।

डिजीलॉकर पर रजिस्टर करने में हो रही दिक्कत, ये है सही तरीका

टेलिकॉम सेगमेंट में नए खिलाड़ी रिलायंस जियो के आने से पूरी टेलिकॉम इंडस्ट्री में ही खलबली मची हुई है। एसोचैम के जनरल सेक्रेटरी डी एस रावत ने इस खलबली पर कहा कि अभी तक डेटा मार्केट का एक तिहाई भी ठीक से इस्तेमाल नहीं हो रहा है, जिसके चलते इस क्षेत्र में एक नए खिलाड़ी के लिए बहुत सारी संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि ग्राहकों के पास भी सस्ते टैरिफ प्लान के बहुत से विकल्प होंगे।

ये है मोदी सरकार द्वारा लॉन्च असली डिजीलॉकर ऐप, ऐसे करें पहचान

जहां एक ओर रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में डेटा ट्रैफिक की तेज ग्रोथ की संभावना है, वहीं दूसरी यह चेतावनी भी दी गई है कि 4जी के लॉन्च, बड़ी पूंजी की जरूरत और कड़े कॉम्पटीशन के चलते अहम कंपनियों के मुनाफे पर भी तगड़ी चोट लग सकती है। आपको बता दें कि भारत दुनिया का दूसरे सबसे बड़ा मोबाइल मार्केट है। फरवरी 2016 के आंकड़ों के हिसाब से देश में 60.8 करोड़ शहरी और 44.4 करोड़ ग्रामीण उपभोक्ता थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
companies will earn eighty thousand crore rupees within few years
Please Wait while comments are loading...