सावधान: अब 500-1000 के नोटों से नहीं जमा कर पाएंगे इंश्योरेंस प्रीमियम

बीमा धारकों को सिर्फ प्रीमियम भरने के लिए ग्रेस पीरियड दिए गए हैं। पुराने नोटों के इस्तेमाल में कोई छूट नहीं दी गई है।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बीमा धारकों के लिए बुरी खबर है। अब आप अपने बीमा का प्रीमियम 500-1000 के नोटों में नहीं भर पाएंगे। बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण ने साफ कर दिया है कि बीमा कंपनियां प्रीमियम की राशी पुराने नोटों में नहीं लेंगी। 

old currency

आईआरडीएआई ने साफ किया कि बीमा धारकों के लिए सिर्फ अनुग्रह अवधि को 30 दिनों के लिए बढ़ाया गया है। भुगतान लोगों को वैध नोटों में ही करना होगा। प्रेस नोट जारी करते हुए बीमा नियामक ने स्‍पष्‍ट किया है कि बीमा प्रीमियम के भुगतान अब पुराने नोटों से नहीं किया जा सकता है।

आने वाली है सैलरी, इन 5 तरीकों से बिना लाइन में लगे ही निकालें कैश

आपको बता दें कि 25 नवंबर को बीमा नियामक ने बीमा कंपनियों को निर्देश जारी किए थे कि जिन पॉलिसी के प्रीमियम भुगतान की तारीख 8 नवंबर से 31 दिसंबर के बीच पड़ती है, उन्हें प्रीमियम भुगतान में 30 दिन का ग्रेस पीरियड दिया जाएगा।

रिलायंस जियो यूजर्स को झटका: 3 दिसंबर के बाद कुछ भी FREE नहीं

लेकिन मीडिया में इस तरह की खबरें आने लगी कि प्रीमियम का भुगतान 500-1000 के पुराने नोटों में किया जा सकता है, जिसके बाद बीमा नियामक ने स्पष्टीकरण जारी कर इस बात को साफ कर दिया कि सिर्फ ग्रेस पीरियड बढ़ाया गया है, नोटों में किसी भी तरह की छूट नहीं दी गई है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Insurance Regulatory and Development Authority of India clarified that it has only granted an extension period by up to 30 days.
Please Wait while comments are loading...