32 लाख एटीएम कार्ड खतरे में, जानिए कौन और कैसे चुरा रहा आपके कार्ड की जानकारी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। हाल ही में भारतीय स्टेट बैंक ने सुरक्षा कारणों के चलते अपने करीब 6 लाख डेबिट कार्ड ब्लॉक किए हैं। अब आशंका ये भी जताई जा रही है कि देशभर के अलग-अलग बैंकों के करीब 32 लाख डेबिट कार्ड की जानकारियां और पिन नंबर चोरी हो गए हैं।

atm

ये रहे एयरटेल के 8 धांसू ऑफर, अपनी पसंद का चुनें

जानकारों का कहना है कि यह कार्ड ऐसे एटीएम पर इस्तेमाल किए गए, जिसमें मालवेयर था और उसी से इन डेबिट कार्ड के पिन चोरी किए गए हैं। इस चोरी को अब तक की सबसे बड़ी सेंधमारी बताया गया है।

इस चोरी का शिकार एसबीआई, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक, यस बैंक और ऐक्सिस बैंक हुए हैं। जिन 32 लाख डेबिट कार्ड के पिन चोरी होने की आशंका जताई गई है, उसमें करीब 26 लाख कार्ड वीजा और मास्टर कार्ड के हैं, जबकि बाकी कार्ड रुपे के हैं। बताया गया है कि इनमें से कुछ कार्ड का गलत इस्तेमाल चीन की किसी जगह पर हुआ है।

बीएसएनल, वोडाफोन और आइडिया के लिए 7 धांसू प्लान, जानिए क्या है खास

किसने की है चोरी?

अभी तक की जानकारी से पता चला है कि यह चोरियां उन एटीएम के इस्तेमाल से हुई हैं, जो हिटाची पेमेंट सिस्टम से जुड़े हुए थे। आपको बता दें कि हिटाची पेमेंट यस बैंक के लिए एटीएम का नेटवर्क चलाती है।

एयरटेल दे रहा 259 रुपए में 10 जीबी डेटा, जानिए कैसे मिलेगा

क्या कहा यस बैंक ने?

यस बैंक का अभी भी यही कहना है कि उसके एटीएम नेटवर्क में को समस्या नहीं है और वह अपने ग्राहकों की हर जानकारी को सुरक्षित रखने के लिए अहम कदम उठा रहा है।

बैंक ने कहा- हमने अपने सभी एटीएम की जांच की है, जिसमें सेंधमारी को कोई मामला सामने नहीं आया है। आपको बता दें कि यस बैंक का एटीएम नेटवर्क बहुत ही छोटा है, लेकिन इन मशीनों से थर्ड पार्टी ट्रांजैक्शन के कारण कई बैंक प्रभावित हुए हैं।

जानिए, किस चीज पर लग सकता है कितना GST

कैसे होती है ये चोरी?

ज्यादातर एटीएम फ्रॉड मशीनों पर स्किमर लगा कर या फिर हिडन कैमरे के जरिए पिन नंबर चुराकर किए जाते हैं। जानकारों की मानें तो मालवेयर ने एसबीआई के हार्डवेयर सिक्योरिटी मॉड्यूल तक अपनी पहुंच बना ली है, जिसके चलते एसबीआई ने नए डेबिट कार्ड जारी करने का फैसला किया है। आपको बता दें कि ऐसा करके मालवेयर कार्ड की जानकारी और पिन नंबर जान सकता है।

ये है वो 'नंबर' जिससे चुटकी में मिल जाता है लोन, जानिए कैसे

क्या कहना है हिटाची का?

हिटाची पेमेंट सर्विस के एमडी लॉनी एंटनी ने कहा, 'पहली नजर में तो हमारे सिस्टम की सुरक्षा में कोई कमी नजर नहीं आ रही है, लेकिन जांच की रिपोर्ट आने तक कुछ नहीं कहा जा सकता। मुझे नहीं लगता कि किसी बैंक को नए डेबिट कार्ड जारी करने की जरूरत है। कई बैंकों ने ग्राहकों को अपने एटीएम पिन नंबर बदलने को कहा है, लेकिन बैंक ऐसे निर्देश आमतौर पर ग्राहकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए देते रहते हैं।'

पटाखों की दुकान वाले 50 फीसदी छूट देकर ऐसे कमाते हैं 200 फीसदी मुनाफा

एसबीआई कर चुका है 6 लाख कार्ड ब्लॉक

भारतीय स्टेट बैंक की तरफ से सुरक्षा कारणों के चलते करीब 6 लाख एटीएम कार्ड ब्लॉक कर दिए गए हैं। एसबीआई का कहना है कि जल्द ही वह सभी को नए कार्ड जारी कर दिया जाएगा। बैंक की तरफ से बताया गया कि इतने सारे कार्ड ब्लॉक करने का फैसला किसी वायरस से संबंधित सुरक्षा कारणों से लिया गया था।

पाकिस्तान में 'हॉट चायवाला' के बाद अब 'चाइनीज ढोलवाली' की धूम

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
3.2 million debit cards compromised
Please Wait while comments are loading...