धीरे-धीरे पत्थर बनता जा रहा है 8 साल का मेंहदी, देखकर भाग जाते हैं लोग

8 साल का मंहेदी धीरे-धीरे पत्थर में बदलता जा रहा है। उसका शरीर पर मोटी परत चढ़ती जा रही है। उसे देखकर लोग डर जाते हैं और उसे गालियां देने लगते हैं।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। 8 साल का मेंहदी हसन धीरे-धीरे पत्थर का बनता जा रहा है। मेंहदी को जो देखता है वो वहां से भाग खड़ा होता है। उसे देखकर लोग भूत-भूत चिल्लाने लगते हैं। इसी डर की वजह से उसे घर के भीतर बंद रहना पड़ता है। दरअसल मेंहदी को स्किन की बीमारी है। वो दुर्लभ चर्म रोग से गुजर रहा है। इस बीमारी की वजह से धीरे-धीरे उस का शरीर पत्थर में बदलता जा रहा है।

OMG Boy turn into stone day by day

हालत ऐसी है कि वो ना तो कुछ छू पाता है और न ही चल-फिर सकता है। उसकी त्वचा धीरे-धीरे सख्त होती जा रही है। उसे इससे असीम दर्द होता है, लेकिन उसे इससे कोई निजात नहीं दिला पा रहा है। डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक मेंहदी बंग्लादेश के दोना रैनानगर इलाके का रहने वाला है। उसे पिता एक कैब ड्राइवर है औरह मां जहानरा बेगम घर पर रहकर उसकी देखभाल करती हैं। इस दुर्लभ बीमारी की वजह से वो चल फिर नहीं पाता। पूरा दिन घर के भीतर बंद रहता है। उसका पूरा शरीर एक मोटी और सख्त परत से ढ़कता जा रहा है। बस उसका चेहरा बचा हुआ है।

पढ़ें-सांप को ईयर रिंग बनाकर पहनना पड़ा भारी,उड़ गए होश

मेंहदी की मां कहती हैं कि उसका बेटा कपड़े तक नहीं पहन पाता, क्योंकि उससे उसे चुभन होती है। पूरा दिन घर में बंद रहता है। वो ना तो खेल सकता है और ना ही पढ़ लिख पा रह है। स्कूल और मदरसे वालों ने उसे निकाल दिया, क्योंकि उसे देखकर बच्चे डर जाते हैं। अगर वो घर से बाहर निकलता है तो लोग उसे देखकर डर जाते हैं और उसे गालियां देते हैं। वो कहती हैं कि मेंहदी बिल्कुल सामान्य बच्चों की तरह की पैदा हुआ था।

पढ़ें-नहीं देखा होगा इतना डरावना वीडियो, जिंदा ईल को निगल गया सांप

जब वो 12 दिन का था तो उसके शरीर पर हमने दाना देखा। हमने सोचा कि मच्छर के काटने से हुआ है, लेकिन धीरे-धीरे वो फैलता चला गया। उसके पैर सख्त होता चला गया। शरीर पर सख्त परत जमने लगी। हमने कई डॉक्टरों से इलाज करवाया, लेकिन कोई उसका इलाज नहीं कर पाए। मेंहदी की मां ने सरकार से अपील की है कि वो उसके बच्चे की मदद के लिए आगे आए। उसकी मदद करें ताकि वो सामान्य हो सके। गौरतलब है कि इससे पहले इसी तरह का मामला नेपाल में सामने आया था, जहां रमेश नाम का एक पत्थर में बदलता जा रहा है।

पढ़ें-महिला ने खोला टमैटो जूस का डब्बा तो देखकर उड़ गए होश

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Eight-year-old is forced to stay inside because he terrifies other children and suffers horrific pain if he touches anything due to rare condition
Please Wait while comments are loading...