PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

पटना। जमीन पर अतिक्रमण हटाने को लेकर पुलिस और पब्लिक के बीच शुरू हुई नोकझोंक देखते ही देखते उग्र हो गई। फिर दोनों तरफ से जमकर लाठी डंडे और पत्थरों की बरसात होने लगी। देखते ही देखते पूरा इलाका रणभूमि में तब्दील हो गया। महिलाएं, बच्चे, बूढ़े, जवान सभी पुलिस के खिलाफ सड़क पर उतरकर जमकर प्रदर्शन करने लगे तो इस हंगामे में दर्जनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह
PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह
PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह

वहीं कई पुलिस कर्मियों के भी घायल होने की बात बताई जा रही है। मामला बिहार के मुजफ्फरपुर जिले का है जहां नगर थाना क्षेत्र के कमरा मोहल्ला में मो. तकी खान इमामबाड़े की जमीन पर मौलाना के द्वारा अतिक्रमण करने को लेकर साल 2010 से ही विवाद चलता आ रहा है। इमामबाड़ा कमिटी का कहना है कि यह जमीन हमारी है तो मौलाना इसे अपनी जमीन बताकर अतिक्रमण की बात से इनकार कर रहे हैं। इसी को लेकर इन दोनों पक्षों में काफी दिनों से विवाद चल रहा था।

PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह
PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह

जब कभी इन दोनों के बीच विवाद शुरू होता तो पुलिस प्रशासन के द्वारा कानूनी कार्रवाई की जाती थी। तो लगातार बढ़ रहे विवाद को देखते हुए प्रशासन ने इसे आपसी समझौते से सुलह कराने की बात करते हुए लगभग 5 बार दोनों पक्षों को एक साथ बैठाया और समझाया। फिर भी ये विवाद खत्म नहीं हुआ और दोनों पक्षों के बीच जमकर मारपीट हुई जिसको लेकर दोनों पक्षों के लोगों ने 26 FIR दर्ज करवाए। जिसके बाद पुलिस ने विवाद बढ़ता देख दोनों पक्षों के लोगों को जमीन पर जाने से मना कर दिया। फिर भी जबरदस्ती मौलाना समर्थक इसे खाली नहीं कर रहे थे और अवैध तरीके से जमीन में तालाबंदी कर विवाद उत्पन्न कर रहे थे।

PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह
PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह

इन लोगों के खिलाफ पहले से भी मामला दर्ज था और उसी मामले में जब पुलिस गिरफ्तारी करने वहां पहुंची तो उनके समर्थकों द्वारा मारपीट करते हुए जमकर नारेबाजी की गई। जिसके बाद पूरा इलाका अनियंत्रित हो गया और जमकर रोड़ेबाजी होने लगी। मामले की जानकारी देते हुए जिले के SSP विवेक कुमार ने बताया कि पुराने मामले में मौलाना की गिरफ्तारी के लिए पुलिस गई थी तभी उनके समर्थक उग्र हो गए और पुलिस के साथ मारपीट करने लगे। पुलिस पर रोड़ेबाजी और मिर्ची पाउडर फेंका गया। जिसमें दर्जनों पुलिस वाले गंभीर रूप से घायल हो गए। फिर मामले की जानकारी जैसे ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को मिली अतिरिक्त पुलिस बल बुलाते हुए स्थिति को नियंत्रण करने की कोशिश की गई।

PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह
PICs: पुलिस और पब्लिक में हिंसक झड़प, इमामबाड़े की जमीन बनी झगड़े की वजह

स्थिति को नियंत्रण करने के लिए पुलिस ने कई राउंड फायरिंग की तो आंसू गैस के गोले भी चलाने पड़े। काफी मशक्कत के बाद हंगामे पर काबू पाया गया। जिसके बाद मौलाना काजिम शबीब को गिरफ्तार करते हुए 35 अन्य लोगों समेत करीब 200 अज्ञात पर नगर थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। फिलहाल पुलिस हंगामे में घायल हुए सभी का इलाज नजदीकी सदर अस्पताल में करवा रहे हैं। फिलहाल घटनास्थल पर पुलिस कैंप कर रही है और स्थिति को नियंत्रित करने के लिए संदिग्ध लोगों पर नजर बनाई हुई है।

Read more: VIRAL VIDEO: नाग ने उगला खुद से भारी नाग, देखकर लोग हुए हैरान

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Violent clashes in police and public, due to imambada land dispute
Please Wait while comments are loading...