लालू के बेटे तेज प्रताप का सुशील मोदी पर विवादित बयान, क्या कहा पढ़िए

Subscribe to Oneindia Hindi

पटना (बिहार)। आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बेटे और बिहार सरकार में मंत्री तेज प्रताप यादव ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने बिहार बीजेपी के नेता सुशील मोदी के उस टिप्पणी पर पलटवार करते हुए कहा कि क्या उनके बेटे नपुंसक हैं क्या जो वो मेरी शादी की चिंता कर रहे हैं?

tej pratap

सुशील मोदी की टिप्पणी पर भड़के तेज प्रताप

बिहार में इन दिनों शादी को लेकर सियासत गरमाई हुई है। मामला तब शुरू हुआ जब हाल ही में बिहार सरकार के उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के लिए उनके वॉट्सएप नंबर पर शादी के करीब 44 हजार प्रस्ताव आने की खबर आती है।

डिमांड में लालू के बेटे तेजस्वी, 44000 लड़कियों ने भेजा शादी का ऑफर

इस खबर पर बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी टिप्पणी करते हैं। उन्होंने कहा कि अब बड़ा भाई कुआंरा रहेगा और छोटे भाई की शादी हो जाएगी।

बस इसी मुद्दे पर जब बिहार सरकार में मंत्री तेज प्रताप यादव से प्रतिक्रिया मांगी गई तो वो सुशील मोदी पर भड़क गए। उन्होंने कहा कि सुशील मोदी को अपनी चिंता करनी चाहिए, लेकिन वो हमारे परिवार की चिंता कर रहे हैं।

तेजस्वी को वॉट्सएप नंबर पर आए थे 44 हजार शादी के प्रस्ताव

इसी दौरान तेज प्रताप यादव ने कहा कि क्या सुशील मोदी के बेटे नपुंसक हैं जो वो हमारी चिंता कर रहे हैं। बता दें कि हाल ही में बिहार सरकार के उप-मुख्यमंत्री और सड़क निर्माण विभाग मंत्री तेजस्वी यादव ने सड़क निर्माण से जुड़ी समस्याओं और जानकारी को लेकर एक वॉट्सएप नंबर जारी किया था।

पत्रकार हत्या मामला: शहाबुद्दीन और तेज प्रताप को सुप्रीम कोर्ट ने भेजा नोटिस

जिसमें सड़क से संबंधित शिकायतें तो महज तीन हजार के करीब ही आई लेकिन तेजस्वी यादव से शादी के लिए करीब 44 हजार लड़कियों ने प्रस्ताव भेज दिए।

बस इसी मामले में सुशील मोदी ने ट्वीट करके टिप्पणी की थी की बड़े भाई कुंवारे रह जाएंगे और छोटे भाई की शादी हो जाएगी। जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए तेज प्रताप ने सुशील मोदी पर विवादित बयान दे दिया। उन्होंने कहा कि सुशील मोदी को हमारी शादी की चिंता नहीं करनी चाहिए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Tej pratap yadav controversial comment on Bihar bjp leader sushil modi.
Please Wait while comments are loading...