फिलहाल आजाद ही रहेंगे शहाबुद्दीन, नीतीश सरकार को झटका

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल से पूर्व सांसद और बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन की जमानत पर रिहाई के खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय गई बिहार सरकार को झटका लगा है।

supreme court,mohammad shahabuddin,nitish kumar,bihar

न्यायालय ने पटना उच्च न्यायालय के उस आदेश पर रोक लगाने से मना कर दिया जिसमें शहाबुद्दीन को 11 साल बाद जमानत पर जेल से रिहा किया गया था।

जानिए कौन थे उरी आतंकी हमले में शहीद वो 17 सपूत?

26 सिंतबर को होगी अगली सुनवाई

12 बार सांपों ने काटा तब भी जिंदा है ये शख्स, डॉक्टर हैरान

इस मामले पर अगली सुनवाई 26 सितंबर को होगी। साथ ही न्यायालय ने बिहार सरकार और चंद्रकेश्वर प्रसाद की याचिका पर सुनवाई करते हुए शहाबुद्दीन को भी नोटिस जारी की है।

इससे पहले बता दें कि शहाबुद्दीन को नवंबर 2005 में हत्या के एक मामले में गिरफ्तार किया गया था। उस वक्त वह संसद सत्र में हिस्सा लेने के लिए दिल्ली आए हुए थे।

अपराध और सियासत के कॉकटेल ने शहाबुद्दीन को बनाया बाहुबली, पढ़िए पूरी क्राइम कुंडली

शहाबुद्दीन पर राजीव रोशन नाम के शख्स की हत्या का आरोप है। वह सीवान में 2004 में हुई दो भाइयों गिरीश राज और सतीश राज की हत्या का चश्मदीद गवाह था।

इस मामले में पटना हाई कोर्ट ने शहाबुद्दीन की जमानत याचिका मंजूर की थी।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
SC refuses to stay Patna HC's order regarding bail to former RJD MP Shahabuddin.
Please Wait while comments are loading...