77 साल के बिहारी से FB पर 75 साल की जर्मन लेडी को हुआ प्यार, दोनों ने की शादी

Subscribe to Oneindia Hindi

जमुई। अक्सर यह देखा जाता है कि सोशल मीडिया के जरिए प्यार करने वाले अधिकतर युवा होते हैं जो फेसबुक, ट्विटर या ह्वाट्सएप के जरिए एक दूसरे को दिल दे देते हैं और फिर बातचीत शादी में बदल जाती है। पर आज हम आपको बताने जा रहे हैं सोशल मीडिया के जरिए प्यार करने वाले एक वृद्ध प्रेमी जोड़े के बारे में जिसने 77 साल की उम्र में सात समंदर दूर जर्मनी में रहने वाली एक 75 साल की वृद्ध प्रेमिका को फेसबुक के जरिए दिल दे दिया। Read Also: बुजुर्ग के पेट में मिला गिलास, देखकर चकरा गए डॉक्टर

मंदिर में दोनों ने रचाई शादी

मंदिर में दोनों ने रचाई शादी

फिर क्या था इन दोनों में प्यार का इजहार हुआ और 75 साल की प्रेमिका अपनी 77 साल के प्रेमी से शादी रचाने के लिए सात समंदर पार जर्मनी से बिहार आ गई। बिहार के जमुई जिला के पत्नेश्वर मंदिर में भगवान को साक्षी मानते हुए इन दोनों ने सात फेरे लिए और हमेशा के लिए एक-दूसरे के हो गए। मंदिर में हो रही इस अनोखी शादी को देखने के लिए लोगों का तांता लगा रहा। इस दोनों प्रेमी जोड़े को शादी रचाते देख लोग यही कह रहे थे कि प्रेम की कोई उम्र नहीं होती, यह कभी भी हो सकता है। आपको बताते चलें की शादी की सबसे खास बात यह थी कि जहां दुल्हन सात समंदर पार जर्मनी से शादी करने के लिए बिहार पहुंची थी तो दूल्हा भी एनआरआई था।

जर्मनी में इंजीनियर थे शत्रुघ्न

जर्मनी में इंजीनियर थे शत्रुघ्न

बिहार के जमुई जिले के धोवघट गांव निवासी शत्रुघ्न प्रसाद सिंह ने जर्मनी की रहने वाली रिटायर्ड जज 75 वर्षीया इडलट्रड हबीब से शादी रचाने के बाद कहा कि हम दोनों का प्यार फेसबुक के जरिए हुआ था। अपनी पुरानी कहानी बताते हुए उन्होंने कहा कि हम इंजीनियर थे और वर्ष 1962 में कोलकाता से इंजीनयरिंग की पढ़ाई करने के बाद जर्मनी में रहकर नौकरी करते थे। 16 साल पहले मैं रिटायर हुआ तो उसके बाद बिहार आ गया। 2014 में मेरी पत्नी का देहांत हो गया।

फेसबुक के जरिए हुआ दोनों का प्यार

फेसबुक के जरिए हुआ दोनों का प्यार

उन्होंने कहा कि पत्नी के गुजर जाने के बाद वे अकेला महसूस करने लगे और अपनी तनहाई को भुलाने के लिए फेसबुक का सहारा लिया। फिर फेसबुक के जरिए उनकी दोस्ती जर्मन की रिटायर्ड जज इडलट्रड हबीब से हुई। दोनों सोशल मीडिया के माध्यम से एक दूसरे से बात करते थे फिर मोबाइल पर बातें होने लगीं जिसके बाद उन्होंने मिलने का प्रोग्राम बनाया। उनकी पहली मुलाकात जर्मनी के एयरपोर्ट पर हुई।

अकेलेपन ने दोनों को एक-दूजे से मिलाया

अकेलेपन ने दोनों को एक-दूजे से मिलाया

पहली मुलाकात में ही हम दोनों ने एक दूसरे को दिल दे दिया और यह बात शादी तक पहुंच गई फिर हमने शादी करने का फैसला किया । तो जर्मनी की रहने वाली पूर्व जज इडलट्रड हबीब ने बताया कि उनका भी हाल कुछ इसी तरह का था। रिटायर होने के बाद उनके पति का देहांत हो गया। पति के देहांत हो जाने के बाद वह काफी अकेली हो गई थी। फिर हमारी दोस्ती फेसबुक के जरिए शत्रुघ्न प्रसाद से हुई और हम दोनों ने शादी करने का फैसला किया । जिसके बाद शत्रुघ्न ने अपने परिवार वालों से बातचीत की और इस शादी के लिए हां कर दिया । फिर हम इंडिया पहुंचे और बिहार के जमुई जिले के पत्नेश्वर मंदिर मे हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार शादी कर ली। इस शादी से हम दोनों और हम सभी के परिवार वाले काफी खुश हैं।

 

 

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A 77 years old engineer from Bihar married with a 75 year old German lady. The met on Facebook.
Please Wait while comments are loading...