नहीं मिली एंबुलेंस, शव को प्लास्टिक बैग में लेकर जाने को मजबूर हुए परिजन

Subscribe to Oneindia Hindi

कटिहार (बिहार)। बिहार में एक शव को पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाना था लेकिन परिजनों का आरोप है कि एंबुलेंस नहीं मिलने पर उन्हें प्लास्टिक बैग में शव को लेकर जाने के लिए मजबूर होना पड़ा।

katihar

अस्पताल में नहीं मिली एंबुलेंस

मानवता को शर्मसार का कर देने वाला ये मामला बिहार के कटिहार इलाके का है। बताया जा रहा है कि तीन लोग एक शव को प्लास्टिक के बैग में लेकर जा रहे थे।

ITBP हेडक्वार्टर की दीवार से टकराया संदिग्ध ट्रक, मचा हड़कंप

उनसे जब पूछा गया कि आखिर आप शव को कहां ले जा रहे हैं तो उन्होंने बताया कि इसे पोस्टमॉर्टम के लिए भागलपुर लेकर जा रहे हैं। उन लोगों ने बताया कि एंबुलेंस की व्यवस्था नहीं होने पर उन्हें प्लास्टिक के बैग में शव को रखकर ले जाने के लिए कहा गया।

मृतक शख्स के रिश्तेदार ने बताया कि इसकी मौत करीब 14 दिन पहले गंगा में डूबने से हो गई थी। हम शव को कटिहार अस्पताल में पोस्टमॉर्टम के लिए लेकर आए।

पोस्टमॉर्टम के लिए शव को ले जाना था भागलपुर

मृतक शख्स के रिश्तेदार के मुताबिक कटिहार अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया कि शव का पोस्टमॉर्टम हो चुका है। लेकिन शख्स की मौत को 24 घंटे से ज्यादा हो चुके हैं। ऐसे में इनका एक और पोस्टमॉर्टम किया जाएगा और वह भागलपुर में ही होगा।

लखनऊ: डकैतों ने लूट के बाद 12 साल की लड़की से किया गैंगरेप

मृतक शख्स के दादा का आरोप था कि हमने डॉक्टरों से कहा कि हमारे पास शव को भागलपुर ले जाने के लिए पैसे नहीं हैं, हमें एंबुलेंस उपलब्ध कराई जाए। लेकिन डॉक्टरों ने एंबुलेंस उपलब्ध कराने से इंकार कर दिया।

डॉक्टरों के कहे मुताबिक परिजन मृतक का शव भागलपुर ले जाने की तैयारी करने लगे। उनका आरोप है कि अस्पताल से उन्हें एंबुलेंस नहीं मिली जिसकी वजह से उन्हें शव प्लास्टिक बैग में लेकर जाना पड़ रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
3 people carry dead relative in plastic bag after they allegedly didn't get ambulance. they take his body to Bhagalpur for postmortem.
Please Wait while comments are loading...