सीआरपीएफ के जवान ने मंदिर में दी अपनी बलि, विचलित करनेवाली तस्वीरें

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

रजरप्पा। मंदिरों में आज तक जानवरों की बलि की बात तो सुनी होगी लेकिन क्या इस बलि के आयोजन में कोई युवक अपनी बलि दे सकता है। बता दें कि ये सुनकर आपको जरुर अचरज होगा। लेकिन एक ऐसा ही वाकया सामने आया है जहां एक युवक ने मंदिर के सामने अपनी गर्दन काटकर बलि दे दी। ये मामला बिहार के बलियापुर का है और मरने वाला शख्स सीआरपीएफ का जवान बताया गया है। ये भी पढे़ं: बिहार: गरीबी की वजह से पति ने की खुदकुशी, कफन के लिए पत्नी ने मांगी भीख

सीआरपीएफ के जवान ने मंदिर में दी अपनी बलि, विचलित करनेवाली तस्वीरें

बता दें कि बिहार के बलियापुर के रहने वाले संतोष ने मां छिन्नमस्तिके मंदिर मैं पूजा अर्चना करने के बाद धारदार हथियार से अपनी गर्दन काटते हुए आत्महत्या कर ली। वहीं, आत्महत्या की खबर सुनते ही मंदिर में पूजा-अर्चना कर रहे लोग उसके पास दौड़े लेकिन उनके पहुंचने तक काफी देर हो चुकी थी।

मिली जानकारी के अनुसार रामगढ़ जिले के रजरप्पा के प्रसिद्ध छिन्नमस्तिके मंदिर मे मां की पूजा अर्चना के लिए बिहार के संतोष पहुंचे। पूजा अर्चना करने के बाद एकाएक अपने पास रखे हुए धारदार हथियार से गर्दन काटते हुए बलि दे दी। ऐसे में इस हादसे के बाद पूरे मंदिर के साथ-साथ इलाके में सनसनी फैल गई। वहीं, लोगों का यही कहना था कि आखिर इस युवक ने मां के दरबार में क्यों अपनी बलि चढ़ा दी। मंदिर में मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों का ये भी कहना है कि पिछले चार-पांच दिनों से ये युवक इलाके के आसपास घूम रहा था।

सीआरपीएफ के जवान ने मंदिर में दी अपनी बलि, विचलित करनेवाली तस्वीरें

वहीं, एक व्यक्ति ने बताया कि सुबह जब वह पूजा करने गया तो संतोष को देखकर उसे ऐसा एहसास नहीं हो रहा था कि संतोष ऐसा कुछ करने वाला है। बता दें कि पूजा करने के बाद आत्महत्या करने का ऐसा मामला पहली बार सामने आया है। वहीं, इस घटना के बाद से मंदिर में ताला लगा दिया गया है। मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है। मामले की जानकारी देते हुए रजरप्पा के थाना अध्यक्ष अतिम कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टि से यह मामला आत्महत्या का नजर आता है। लेकिन मामले की जांच की जा रही है जल्द ही आत्महत्या का कारण पता चल जाएगा।

खबर है कि हिंदू धर्मावलम्बियों के लिए रजरप्पा का मां छिन्नमस्तिके मंदिर एक सिद्धपीठ माना जाता है। इस मंदिर में आत्महत्या की बात सामने आते ही मंदिर को शुद्धिकरण के लिए पंचगव्य, पंचद्रव्य के साथ-साथ पांच नदियों के जल से शुद्धिकरण करते हुए एक विशेष पूजा अर्चना की गई। इस पूजा अर्चना के बाद मां के दर्शन के लिए खड़े बाकी श्रद्धालु मां की पूजा कर सकते हैं। ये भी पढ़ें: दिल्ली पुलिस ने किया गिरोह का भंडोफोड़: शादियों में बन कर आते थे मेहमान, कर जाते थे कंगाल

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bihar, rajrappa a man cut his head in front of temple.
Please Wait while comments are loading...