प्रकाश उत्सव समारोह में शामिल होने आये BJP के 'शत्रु' दिखे पार्टी से अलग

प्रधानमंत्री के दौरे से पहले बिहारी बाबू शत्रुघ्न यादव गांधी मैदान में नजर आए। प्रकाश पर्व के महाआयोजन की व्यवस्था को देखकर बिहारी बाबू ने नीतीश कुमार की जमकर तारीफ की।

Subscribe to Oneindia Hindi

पटनाबिहार के पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा पार्टी में बिल्कुल अलग-थलग पड़ते दिख रहे हैं। लगातार पार्टी विरोधी बयानों को लेकर सुर्खियों बटोरने वाले शॉटगन बहुत दिनों बाद किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में नजर आए। दशमेश गुरु के 350वें प्रकाश पर्व के दौरान प्रधानमंत्री के दौरे से पहले ही शत्रुघ्न सिन्हा गांधी मैदान पहुंचे और आमलोगों का अभिवादन किया। पटना साहिब से बीजेपी के सांसद हैं शत्रुघ्न सिन्हा। अपने तल्ख रवैये और लगातार हमलावर बयानों को लेकर वह पार्टी के किसी कार्यक्रम में पिछले एक साल से शरीक नहीं हो रहे थे।

समारोह में शामिल होने आये BJP के 'शत्रु' दिखे पार्टी से अलग

लेकिन बहुत दिनों बाद प्रधानमंत्री के दौरे से पहले बिहारी बाबू गांधी मैदान में नजर आए। प्रकाश पर्व के महाआयोजन की व्यवस्था को देखकर बिहारी बाबू ने नीतीश कुमार की जमकर तारीफ की। बीजेपी सांसद ने कहा कि प्रकाश पर्व के दौरान जो इंतजाम किए गए हैं, वह काबिले तारीफ है। पीएम के आगमन और संबोधन के दौरान मंच के सामने वीआईपी घेरे में बैठे भी शत्रुघ्न सिन्हा लेकिन न तो बीजेपी का कोई स्थानीय नेता और न कोई राज्यस्तरीय भाजपा नेता भी उनको तवज़्ज़ो देता दिखा।
हद तो ये हुई की घंटों मौजूद रहे सांसद से भाजपा का कोई भी नेता रूबरू नहीं हुआ बल्कि हालात ये है कि सभी उनसे कन्नी काटते नजर आये। जब उनका धैर्य जवाब दे गया तो जैसे अकेले शत्रुघ्न सिन्हा गांधी मैदान आए थे ठीक वैसे ही बिना किसी के साथ लौट गये। हालात इशारा कर रहे थे की बिहार के सबसे कामयाब फ़िल्मी चेहरे को भाजपाई अपने सियासी उत्थान के लिए शत्रु मान चुके है। ये भी पढे़: लालू के बेटों ने सुनी मोदी-नीतीश की कानाफूसी, लालू परेशान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bharatiya janata party's leader Satrughan Sinha seen Isolated during prakash utsav
Please Wait while comments are loading...