English বাংলা ગુજરાતી ಕನ್ನಡ മലയാളം தமிழ் తెలుగు
Filmibeat Hindi

राजा भैया पर भड़की मायावती कहा, इस्तीफा महज दिखावा

Posted by:
 

राजा भैया का इस्तीफा केलव दिखावा मायावती

लखनऊ। कुंडा के डिप्टी एसपी जिया उल हक की हत्या के बाद उत्तर प्रदेश की सियासत में भूचाल आ गया है। विपक्षी पार्टियां सपा सरकार पर निशाना साध रही है। पक्ष और विपक्ष के बीच जुबानी जंग शुरु हो गई है। सियासी माहौल गरम हो गया है। मौके का फायदा उठाते हुए बहुजन समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मायावती ने यूपी में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है। मामले से जुड़े सपा सरकार के खाद और रदस मंत्री रधुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के अपने पद से देने को बहनजी महज दिखावा बता रही है। दलित नेता और प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था नहीं है। राज्य में पूरी तरह से गुंडाराज है। उन्होंने कहा कि सपा के शासन में राज्य में कानून के रखवाले ही सुरक्षित नहीं है तो आम जनता कैसे सुरक्षित रह सकती है। मायावती ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है।

बाहुबली नेता राजा भैया पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि एफआईआर दर्ज किए जाने के बावजूद राजा भैया को गिरफ्तार नहीं किया गया। उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है। ऐसे में अपने पद से उनका इस्तीफा देना मजह एक दिखावा है। राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग करते हुए बसपा सुप्रीमो ने कहा कि उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए। उन्होंने केन्द्र सरकार की ओर इशारा करते हुए कहा कि यूपीए सरकार को इस बारे में जल्द से जल्द कोई ठोस फैसला लेना चाहिए।

बीएसपी सुप्रीमों ने मुलायम सिंह यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि मुलायम उत्तर प्रदेश चलाने में सक्षम नहीं हैं। मुलायम पर टिप्पणी करते हुए मायावती ने कहा कि जो यूपी वको संभाल नहीं सका वो देश चलाने का सपना कैसे देख सकता है। वीएसपी की तीखी टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए सपा नेता जया बच्चन ने कहा कि मायावती को प्रदेश की कानून व्यवस्था पर बोलने का कोई हक नहीं है क्योंकि लोग उनका शासनकाल देख चुके है।

गौरतलब है कि कुंडा के डीएसपी जिया उल हक हत्याकांड के बाद गरमाए सियासत को देखते हुए सीएम अखिलेश यादव ने मामले की सीबीआई जांच के आदेश दे दिए है। लोगों को आक्रोश को देखते हुए भले ही मुख्यमंत्री अखिलश यादव ने जांच के आदेश दे दिए हो लेकिन अब तक राजा भैया की गिरफ्तारी नहीं हुई है और ना ही पुलिस उनसे कोई पुछताछ कर पाई है। ऐसे में यूपी की सपा सरकार पर बाहुबलियों की छाप साफ तौर पर दिखती है। दरअसल प्रतापगढ़ जिले में शनिवार शाम ग्राम प्रधान और उनके भाई की हत्या की गई थी। जिसके बाद भीड़ ने पुलिस पर हमला कर दिया था और पुलिस क इस हमले में डीएसपी जियाउल हक की मौत हो गई। बाद में डीएसपी की पत्नी पनवीन आजाद की शिकायत पर पुलिस ने बहुबली नेता राजा भैया के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

English summary
The former UP chief minister Mayawati demanded that the Governor should send a report for President's rule in the state. She has hit out at the SP for failing to govern UP properly.
कमेंट करें
Subscribe Newsletter
Videos You May Like