किनारे हुआ व्‍हार्टन, अमेरिका-कनाडा के NRI मुखातिब होंगे मोदी से

Subscribe to Oneindia Hindi

अहमदाबाद। व्‍हार्टन में नरेंद्र मोदी का भाषण रद्ध किये जाने के बाद देश भर के बौद्धिक समुदाय के बीच एक बहस छिड़ गई कि आखिर यह निर्णय क्‍यों लिया गया, किसी ने मोदी के पक्ष में तो किसी ने विपक्ष में बोला, तो कई विरोधी तो मजाक भी बनाने लगे, लेकिन सच तो यह है कि मोदी की डिक्‍शनरी से वार्टन किनारे हो गया है, क्‍योंकि अब अमेरिका और कनाडा के अप्रवासी भारतीयों (एनआरआई) ने मोदी को न्‍योता दिया है।

गुजरात के मुख्‍यमंत्री नरेंद्र मोदी अब अमेरिका और कनाडा के अप्रवासी भारतीयों को 10 मार्च को संबोधित करेंगे। माध्‍यम होगा वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग। इसके अंतर्गत एक परिचर्चा का आयोजन भी किया जायेगा, जिसमें अमेरिका और कनाडा में रहने वाले कई भारतीय हिस्‍सा लेंगे।
परिचर्चा का समय रविवार 10 मार्च सुबह बजे (भारतीय समयानुसार) निर्धारित किया गया है। इस कार्यक्रम का आयोजन भाजपा के मित्र कर रहे हैं।

Narendra Modi

ओवरसीज़ फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी के अध्‍यक्ष जयेश पटेल ने कहा कि इसमें खास तौर से शिकागो और न्‍यूजर्सी में लोगों को मंच प्रदान किये जायेंगे। मोदी दोनों जगह के लोगों को एक साथ संबोधित करेंगे। इसी दौरान अमेरिका और कनाडा में टीवी एशिया पर लाइव टेलीकास्‍ट भी किया जायेगा। अधिक जानकारी के लिये यहां क्लिक कर सकते हैं

चौथी बार गुजरात के मुख्‍यमंत्री बने मोदी भारत के सबसे प्रसिद्ध एवं निर्भीक नेता माने जाते हैं। उन्‍होंने जिस तरह से गुजरात का विकास किया, उसे देखते हुए विश्‍व के कई देशों ने गुजरात को मॉडल बनाकर अध्‍ययन शुरू कर दिया है। मोदी की गवर्नेन्‍स पर लोग अध्‍ययन कर रहे हैं। अब विदेशों में रह रहे भारतीय अब उनसे सीखना चाहते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Narendra Modi will address the Indian diaspora in a Community Outreach Programme organized by the Overseas Friends of BJP.
Please Wait while comments are loading...