स्वास्थ्य और शिक्षा के लिये जागरूक नहीं उत्तर प्रदेश वासी : अखिलेश

Subscribe to Oneindia Hindi

akhilesh yadav
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज कहा कि राज्य के लोग स्वास्थ्य और शिक्षा के लिये अभी पूरी तरह सचेष्ट नहीं है और इन दोनों ही क्षेत्रों पर गम्भीरता से काम करने की जरूरत है।

अखिलेश ने यहां एक कॉलेज में होप इनीशियेटिव तथा माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश द्वारा प्रकाशित एक किताब के विमोचन के अवसर पर कहा कि जनसंख्या की दृष्टि से उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है लेकिन यहां के लोग स्वास्थ्य और शिक्षा के प्रति अभी पूरी तरह जागरूक नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि ऐसे हालातों के मद्देनजर स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्रों में गम्भीरता से काम किया जाना चाहिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के विकास के लिये कई योजनाओं को अंतिम रूप देकर उन पर जल्द ही काम शुरू कर दिया जाएगा।

शहरों आधारभूत संसाधनों एवं यातायात व्यवस्था की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि मौजूदा वक्त में यह व्यवस्थाएं पर्याप्त नहीं हैं। नगरीय व्यवस्था सुधारने के लिये सरकार काम करेगी।

अखिलेश ने हम और हमारा स्वास्थ्य पुस्तक को उपयोगी बताते हुए कहा कि इस किताब के जरिये बच्चों में विभिन्न बीमारियों तथा रोजाना उत्पन्न होने वाली कई समस्याओं के प्रति जागरूकता पैदा होगी। उन्होंने इस किताब को सरकारी पाठ्यक्रम में शामिल कराने का प्रयास करने की बात भी कही। 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Uttar Pradesh Chief Minister Akhilesh Yadav today stressed on the need to work with full sincerity in the areas of health and education. "UP is a big state and going by its large population, people are not fully vigilant towards health and education, therefore there is a need to work with full sincerity in both these areas," he said at a function to release a book 'Hum aur Hamara Swasthya' here.
Please Wait while comments are loading...