देखिये रेल बजट 2012 के प्रमुख अंश

Posted by:
 
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+ Comments Mail

Rail Budget Dinesh Trivedi
नई दिल्‍ली। केंद्रीय रेलमंत्री दिनेश त्रिवेदी लोकसभा पहुंच चुके हैं। वो दोपहर 12 बजे से सदन में रेल बजट पेश किया। इस बजट में यात्री किराया बढ़ा दिया गया है। साथ ही एक लाख नौकरियां दी जायेंगी व 50 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा।

पेश हैं बजट के शुरु से लेकर अंत तक प्रमुख अंश

1:45 बजे। रेल मंत्री ने अपने भाषण का समापन किया और लोकसभा अध्‍यक्ष से रेल बजट स्‍वीकार करने का अनुरोध किया। इससे पहले-

1:43 बजे। प्‍लेटफॉर्म टिकट की कीमत 3 रुपए की जगह 5 रुपए होगी।

1:42 बजे। स्‍वतंत्र रेलवे टैरिफ कमेटी का गठन किया जायेगा। जो माल भाड़ा के किराये की दरें इस प्रकार बढ़ायी गई हैं- जनरल क्‍लास में 3 पैसे प्रति किलोमीटर, एक्‍सप्रेस द्वितीय स्‍लीपर क्‍लास में 5 पैसे, एसी चेयर व थ्री टीयर के लिए 10 पैसे, 2 टीयर के लिए 15 पैसे और एसी फर्स्‍ट क्‍लास के लिए 30 पैसे प्रति किलोमीटर की वृद्धि होगी।

1:41 बजे। या‍त्री किराये में बड़ी वृद्धि नहीं की गई हे- हज्‍जत स्‍कीम के तहत यात्रा की दूरी 100 किलोमीटर से बढ़ाकर 150 किलोमीटर हो जायेगी। माल भाड़ा किराया कुछ दिन पहले ही बढ़ाया था और माल भाड़ा किराये की दर सही तरह से तय करने की जरूरत है।

1:40 बजे। सिकलसेल एन‍ीमिया के मरीजों को किराये में 50 प्रतिशत की छूट दी जायेगी।

1:40 बजे। अर्जुन पुरस्‍कार विजेताओं को शताब्‍दी और राजधानी में रियायत दी जायेगी।

1:35 बजे। रेलवे ने 3000 करोड़ रुपए का ऋण लिया है, जो रेलवे इस साल ब्‍याज सहित चुका देगा।

1:32 बजे। यात्रियों से होने वाली आय 73 हजार करोड़ रुपए है।

1:31 बजे। त्रिवेदी ने कहा- कंधा मिलाकर साथ चलें तो कुछ नहीं मुश्किल, साथ मिलकर अगर हम पटरियां बिछायेंगे तो देखते ही देखते सब रास्‍ते खुल जायेंगे।

1:30 बजे। 5672 करोड़ के मुनाफे का अनुमान था, जिसमें रेलवे को सिर्फ 1400 करोड़ का मुनाफा हुआ है, उसे सुरक्षा के लिए खर्च करना था और वो उसके लिए काफी है।

कुछ प्रमुख खबरें-

- 39 ट्रेनों की सूची, जिनके रूट में विस्‍तार हुआ

- रेल बजट में प्रस्‍तावित नई एक्‍सप्रेस ट्रेनों की सूची

- बिना ब्रेक की रेल, जरुरतमंद चीजें फेल

- उधार के पैसों से रफ्तार भरेगी भारतीय रेल

- रेल किराया बढ़ने से नाराज ममता बैनर्जी

1:28 बजे। हम बजट के लक्ष्‍य से 2322 करोड़ रुपए कम कमाई होने की उम्‍मीद है। यानी रेलवे फिर से घाटे में जायेगी। रेलवे कमीशन कमेटी ने घाटे को 6 फीसदी से कम करके 5 फीसदी किया।

1:26 बजे। कंधे झुक गये हैं, कमर लचक गई है, बोझा उठा-उठाकर बेचारी रेल थक गई है। रेलगाड़ी को नई दवा चाहिये, नया असर चाहिये, थोड़े पैसे चाहिये, इस सफर में आप जैसा हमसफर चाहिये। अब रेलवे की आर्थिक स्थिति बहुत खराब होती जा रही है।

1:25 बजे। मेमू के अंतर्गत चेन्‍नई में 18 नई लोकल ट्रेनें चलेंगी। मुंबई में 18 अतिरिक्‍त लोकल ट्रेनें चलेंगी।

1:23 बजे। 75 एक्‍सप्रेस ट्रेनें, 21 पैसेंजर, 8 मेमू, 9 नई डेमू ट्रेनें चलायी जायेंगी। इनके अलावा गुरु सेवा के अंतर्गत 3 स्‍पेशल ट्रेनें अमृतसर के लिए चलेंगी।

1:23 बजे। रेलवे बोर्ड में दो अतिरिक्‍त सदस्‍य होंगे, एक निजी क्षेत्रों से समन्‍वय स्‍थापित करेगा और दूसरे का काम 

1:21 बजे। रेल कोच फैक्ट्रियों में भी रोजगार बढ़ेगा।

1:20 बजे। रेलवे में 1 लाख नौकरियां दी जायेंगी, जिनमें अनुसूचित जाति, जनजाति एवं ओबीसी को कोटे के मुताबिक नौकरियां दी जायेंगी।

1:16 बजे। 6 कॉरीडॉर पर चलायी जायेंगी हाई स्‍पीड ट्रेनें।

1:15 बजे। 2500 डिब्‍बों में ग्रीन टॉयलेट बनाये जायेंगे, जिसके अंतर्गत डिब्‍बों के टॉयलेट का मल सीधे प्‍लेटफॉर्म पर नहीं गिरेगा। इसे ग्रीन टॉयलेट के माध्‍यम से मल को एकत्र कर एक निश्चित जगह पर छोड़ा जायेगा।

1:12 बजे। विकलांग व्‍यक्तियों के लिए व्‍हीच चेयर के सहारे ट्रेनों पर चढ़ाने की विशेष सुविधा दी जायेगी।

1:11 बजे। ट्रेनों में डिब्‍बों में सफाई नहीं होना यह एक बदनामी का कारण बनजा जा रहा है, इसके लिए स्‍पेशलाइज्‍ड हाउसकीपिंग बॉडी बनायी जायेगी जो सफाई सुनिश्चित करेगी।

1:09 बजे। देश के अलग-अलग राज्‍यों का क्षेत्रीय भोजन ट्रेनों पर उपलब्‍ध कराया जायेगा।

1:08 बजे। 929 स्‍टेशनों का आदर्श रेलवे स्‍टेडियम बनाया जायेगा। रेल बंधु ऑन बोर्ड पत्रिका की शुरुआत होगी, जो राजधानी, शताब्‍दी, आदि ट्रेनों में होगी।

1:07 बजे। इस साल 1102 करोड़ यात्रियों की सुविधाओं के लिए खर्च होंगे। ई टिकट में कागजी टिकट की जगह मोबाइल एसएमएस को भी टिकट माना जायेगा।

1:05 बजे। पड़ोसी देशों के साथ रेल संपर्क बढ़ाने के लिए अगरतला से बांग्‍लादेश के हकूडा तक रेल संपर्क स्‍थापित किया जायेगा।

1:02 बजे। कर्नाटक व गुजरात के कच्‍छ में अतिरिक्‍त कोच फैक्‍ट्री लगायी जायेगी। साथ ही केरल के पलक्‍कड़ में सवारी डिब्‍बा फैक्‍ट्री, विदीशा मध्‍य प्रदेश में डीजल इंजन फैक्‍ट्री लगाये जाने का प्रस्‍ताव है। 

1:02 बजे। नये रेल पहिये प्‍लांट की बात करें तो छपरा में नया प्‍लांट इस साल तैयार हो जायेगा। वहीं रायबरेली में कोच फैक्‍ट्री इस साल चालू जो जायेगी। उड़ीसा में माल डिब्‍बा फैक्‍ट्री।

1:01 बजे। पूर्वी और पश्चिमी कॉरीडॉर में नये ट्रैक का ठेका इस साल दिया जयोगा।

1 बजे। अभी तक रेलवे के पीपीपी मॉडल ज्‍यादा सफल नहीं रहे हैं। इस साल इसे बढ़ावा देने का प्रस्‍ताव है, ताकि और संसाधन जुटाये जा सकें।

12:59 बजे। पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मॉडल के माध्‍यम से रेलवे निजी क्षेत्र पर भी निर्भर रहेगा रेलवे।

12:58 बजे। कई अन्‍य परियोजनाएं हैं जहां राज्‍य सरकारें आगे आयी हैं- उनमें रोहतक, हांसी, आदि समेत कई छोटे शहर लाभान्वित हुए हैं।

12:58 बजे। हम राज्‍य सरकारों के साथ मिल कर पिछड़े इलाकों में विस्‍तार कर सकते हैं।

12:57 बजे। पीपीपी मॉडल के अंतर्गत पिछड़े इलाकों में राज्‍य सरकारों के साथ मिलकर रेल परियोजनाओं को शुरू किया जाएगा। इसमें आंध्र प्रदेश, छत्‍तीसगढ़ समेत कई राज्‍यों में ऐसी परियोजनाएं शुरू होंगी।

12:55 बजे। मुंबई में- सीएसटीएम, पनवेल, नवी मुंबई में जेएनपीटी तक नई प्रणाली जेएलपीटी से कनेक्‍ट किया जायेगा। हार्बर लाइन पर 12 कार वाली लाइनें चलायी जायेंगी। चर्चागेट से विराज तक एलीवेटेड रेल कॉरीडॉर का मॉडल तैयार किया जा रहा है।

12:52 बजे। कोलकाता मेट्रो- इसके विस्‍तार में जो प्रगति हुई है वो हम संतोषजनक मानते हैं। कोलकाता में सर्कुलर रेलवे का विस्‍तार किया जायेगा। एमआरटीसी चेन्‍नई में भी विस्‍तार का काम चल रहा है। मुंबई रेलवे विकास कॉर्पोरेशन में भी जो काम चल रहा है वो भी प्रगति पर है।

12:50 बजे। ट्रेनों की संख्‍या बढ़ाने में दिक्‍कत है।

12:50 बजे। डबल डेकर माल गाडि़यां चलायी जायेंगी।

12:48 बजे। रेल कंवर्जन 825 किलोमीटर पर होगा। नये सर्वे कई लाइनों पर शुरू करने का प्रस्‍ताव है। पुरानी पटरियों पर ज्‍यादा दिन तक ट्रेनें नहीं चल सकती हैं। इसलिए 19 हजार किलोमीटर पटरियां ब्रॉड गेज में परिवर्तित हो चुकी हैं।

12:47 बजे। नई लाइनों के लिए 6872 करोड़ रुपए आवंटन किये गये हैं।

12:46 बजे। राज्‍य सरकारों से अनुरोध है कि वे अपने राज्‍यों में संसधन उपलब्‍ध करायें, त‍ाकि नई सेवाएं उन्‍हें अच्‍छी तरह मिलें।

12:45 बजे। कुल 700 किलोमीटर की 45 नये रूटों पर रेलवे लाइनें बिछायी जायेंगी।

12:44 बजे। पिछड़े इलाकों तक रेलवे लाइनें बिछाई जायेंगी। खासतौर से उन क्षेत्रों में जहां अनुसूचित जाति एवं जनजातियों के लोग रहते हैं।

12:43 बजे। 11 किलोमीटर लंबी सुरंग बनायी गई है, पहाड़ों के नीचे से, इससे जम्‍मू-कश्‍मीर के कई शहर जुड़ेंगे।

12:42 बजे। 1102 करोड़ रुपए यात्रियों की सुविधाओं के लिए संसाधन जुटाने के लिए खर्च किये जायेंगे।

12:40 बजे। एक लॉजिस्टिक्‍स कॉर्पोरेशन स्‍थापित किया जायेगा, जो माल गाडि़यों को नियंत्रित करेगा।

12:39 बजे। एक नया कॉर्पोरेशन स्‍थापित किया जाएगा जिसका नाम होगा- इंडियन रेलवे स्‍टेशन डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन होगा। अगले पांच साल में 100 रेलवे स्‍टेशनों को विश्‍वस्‍तरीय बनायेगा। मेट्रो स्‍टेशनों में रेलवे स्‍टेशनों को विकसित करने से 50 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा।

12:38 बजे। माल गाडि़यों की स्‍पीड बढ़ाने का प्रस्‍ताव है।

12:36 बजे। देश की 80 फीसदी ट्रेनें 19 हजार किलोमीटर के ट्रैक पर चलती हैं। लिहाजा इसे मजबूत करना जरूरी है। नये रेलवे इंजन बनाये जाएंगे, जिनसे ज्‍यादा लंबी दूरी तक ट्रेनों को खींचा जा सके। इनके लिए 1 लाख करोड़ से ज्‍यादा रुपए की जरूरत पड़ेगी। इसीलिए 2012-13 की वार्षिक योजना में मैं 18 हजार करोड़ रुपए प्रस्‍तावित करना चाहता हूं।

12:33 बजे। अगले पांच साल में 19 हजार किलोमीटर रेलवे ट्रैक का आधुनिकीकरण किया जायेगा। यह जरूरी है, ताकि ट्रेनों की स्‍पीड 150 किलोमीटर प्रतिघंटा तक बढ़ायी जा सके। इसमें सिग्‍नल प्रणाली का आधुनिकीकरण का कदम पहला होगा। जब भी एक ड्राइवर सिग्‍नल तोड़ता है, तभी हादसे की संभावना सबसे ज्‍यादा होती है। इसीलिए पहले 19 हजार किलोमीटर में सिग्‍नल सिस्‍टम को मजबूत किया जायेगा।

12:31 बजे। इन सभी के लिए 60100 करोड़ रुपए का निवेश चाहिये।

12:30 बजे। पांच क्षेत्रों पर खास जोर दिया जायेगा- संरक्षा बढ़ाने के लिए- रेलवे ट्रैक, सिग्‍नल, पुल, दूरसंचार व्‍यवस्‍था, रोलिंग व्‍यवस्‍था और रेलवे स्‍टेशनों का आधुनिकीकरण।

12:28 बजे। जिस तरह रक्षा और विदेश के लिए देश की नीति है, उसी तरह रेलवे के लिए नीति की जरूरत है।

12:25 बजे। जितनी भी मांगें रेल मंत्रालय के पास आती हैं, उन्‍हें मैं जायज मानता हूं, क्‍योंकि यह आम आदमी चाहता है। मैंने पूरी कोशिश की है कि आम आदमी की ज्‍यादातर मांगों को मैं पूरा कर सकूं।

12:24 बजे। पिछले आठ महीने में 5741 सिफारिशें मेरे पास आयीं, जिनमें हर तरह के अनुरोध हैं। 476 में लाइन डबलिंग के, इसी प्रकार नई लाइनों के लिए, प्‍लेटफॉर्म के आधुनिकीकरण के लिए, आदि अनुरोध हैं।

12:22 बजे। अगले 10 साल में रेलवे को 14 लाख करोड़ रुपए की जरूरत पड़ेगी।

पढ़ें- रेल बजट से कोई उम्मीद नहीं: लालू प्रसाद यादव

12:21 बजे। त्रिवेदी ने कहा- यह बजट इस हिसाब से बनाया गया है, कि सिर्फ अगले एक साल से लोग इससे लाभान्वित नहीं हों बल्कि आने वाले पांच वर्षों तक इसका लाभ मिल सके। आने वाले कई वर्षों के लिए योजनाएं बनायी गई हैं, जिनमें अगले एक वर्ष की कुछ झलकियां हम पेश कर रहे हैं।

12:19 बजे। रेलवे के विकास के लिए संसाधनों की जरूरत है और नई ट्रांसपोर्ट प्रणाली के लिए आधुनिकीकरण का रास्‍ता चुन लिया है। यह सुरक्षा के साथ-साथ सुविधाएं मुहैया करायेगा।

12:17 बजे। पड़ोसी देश बॉर्डर पर सड़क व रेल का निर्माण कर रहे हैं, हमें भी सीमावर्ती इलाकों में रेलवे लाइन पहुंचानी चाहिये। साथ ही पिछड़े इलाकों को रेल से जोड़ा जाना चाहिये। प्रधानमंत्री रेल विकास योजना के अंतर्गत इस पर काम चल रहा है।

12:16 बजे। 5.60 लाख करोड़ रुपए का बजट आधुनिकीकरण के लिए दिया जायेगा।

12:15 बजे। सैम पित्रोदा की सिफारिशों के आधार पर निजी क्षेत्र से निवेश के दरवाजे खोले जा सकते हैं।

12:14 बजे। रेलवे अनुसंधान समिति की स्‍थापना की जायेगी, क्‍योंकि तकनीकि और अनुसंधान के माध्‍यम से ही विकास संभव है।

12:13 बजे। रेलवे की लेवल क्रॉसिंग खत्‍म की जायेंगी, ताकि दुर्घटनाओं पर लगाम कसी जा सके। 

12:12 बजे। रेलवे सुरक्षा प्राधिकरण का गठन किया जायेगा। साथ ही रेलवे सुरक्षा निगम का गठन होगा। इसके लिए एक कमेटी का गठन किया गया है, जिसके अध्‍यक्ष अनिल काकोदकर होंगे। काकोदकर कमेटी की सिफारिशों के आधार पर सुरक्षा उपाये किये जायेंगे।

12:03 बजे। रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी ने अपना पहला रेल बजट पढ़ना शुरू किया। सबसे पहले उन्‍होंने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, नेता विपक्ष सुषमा स्‍वराज, यूपीए अध्‍यक्ष सोनिया गांधी, तृणमूल कांग्रेस की अध्‍यक्ष ममता बनर्जी का आभार व्‍यक्‍त किया।

11:30 बजे। प्रश्‍नकाल में कायला की कमी पर सवाल पूछे जाने पर संसद में हंगामा शुरू हो गया, जिसके बाद सदन को 12 बजे तक स्‍थगित कर दिया गया।

11 बजे। सदन की कार्यवाही शुरू हुई। प्रश्‍नकाल शुरू हुआ।

सुबह 10:30 बजे। रेल मंत्री अपने सहयोगियों के साथ संसद भवन पहुंचे।

English summary
Railway Minister Dinesh Trivedi has ready to present the Rail Budget for the year 2012-13 in Lok Sabha during the third day of Budget Session. Here are the live updates of Rail Budget from Lok Sabha.
Please Wait while comments are loading...

Samachar

Dictionary

अंग्रेजी शब्द यहाँ टाइप करें और खोजें
आज का शब्द
समझदारी

Videos