पाकिस्तान में बाढ़ के और गंभीर होने की चेतावनी

Subscribe to Oneindia Hindi

Pakistan Flood
पाकिस्तान के आपदा प्रबंधन अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि बाढ़ की स्थिति और ख़तरनाक रूप ले सकती है. शुक्रवार और अगले हफ़्ते की शुरुआत में बाढ़ के पानी का स्तर बढ़ सकता है जिसका ख़तरा सबसे ज़्यादा पंजाब और सिंध प्रांतों में होगा जहाँ सिंधु नदी का पानी लगातार बढ़ रहा है. अधिकारियों का कहना है कि वहाँ जलस्तर पहले से ही बहुत बढ़ा हुआ है.

पाकिस्तान के राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन विभाग ने कहा है कि सिंधु नदी में दो जगहों पर पानी का स्तर अधिकतम होने की आशंका है. बाढ़ की वजह से सिंधु नदी 18 मील चौड़ी हो चुकी है. आपदा प्रबंधन विभाग के प्रवक्ता ने कहा है कि संकेत मिल रहे हैं कि अब बाढ़ से और भी ज़्यादा तबाही होने की आशंका है. अभी तक अनुमान लगाया गया था कि बाढ़ से प्रभावित लोगों की संख्या लगभग एक करोड़ 40 लाख हो चुकी है.

इस नई चेतावनी के बाद अधिकारियों ने आशंका जताई है कि बाढ़ से प्रभावित लोगों की संख्या अब इससे भी ज़्यादा बढ़ सकती है. दक्षिणी पंजाब के राहत कैंप में डॉक्टरों ने बीबीसी को बताया कि उन्हें इस बात की चिंता सता रही है कि बाढ़ से मलेरिया होने का ख़तरा दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है. डायरिया, गैस्ट्रोइंटराइटिस और त्वचा के रोग पहले से ही वहाँ फैल रहे हैं.

पाकिस्तान में दो हफ़्ते पहले आई बाढ़ से ख़ूब तबाही मची है जिससे अब तक 1600 लोगों की मौत हो चुकी है. बाढ़ से अरबों की फ़सलें तबाह हो गई हैं. प्रांत में दो से तीन अरब डॉलर की फ़सलें तबाह हो गई हैं जिसमें 6.5 लाख एकड़ में लगाई गई कपास, धान, मक्का इत्यादि फ़सलें शामिल हैं. राहत कार्य के बारे में एक अधिकारी ने कहा है कि जितनी सामग्री पहुँच रही है बाढ़ पीड़ितों की संख्या उससे बहुत अधिक है.

पाकिस्तान में जब बाढ़ आई तो राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी ने अपना ब्रिटेन दौरा रद्द नहीं किया था. इसके लिए उनकी काफ़ी आलोचना भी हुई थी. लौटने के बाद गुरुवार को ज़रदारी ने प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया. इस बीच एक अमरीकी जहाज़ के साथ कुछ और हेलिकॉप्टर और नौसैनिकों के पहुँचने से राहत के काम में तेज़ी आई है. प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी और पंजाब के मुख्यमंत्री ने मिलकर ये वादा किया है कि बाढ़ के पीड़ितों को मदद बिना किसी बाधा के मिलती रहेगी.

उधर सयुंक्त राष्ट्र ने अंतरराष्ट्रीय दानदाताओं से 45 करोड़ अमरीकी डॉलर की सहायता करने के लिए अपील की है. यूरोपीय संघ ने बुधवार को तीन करोड़ यूरो की मदद की घोषणा की थी और इसके बाद उसने एक करोड़ यूरो और देने की मदद की है.

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
Please Wait while comments are loading...