26 जनवरी से 01 फरवरी तक का राशिफल

Written by: पं. अनुज के शुक्ल
 
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+    Comments Mail

लखनऊ के ज्‍योतिषाचार्य पं. अनुज के शुक्‍ला आपको बता रहे हैं आपका सप्‍ताहिक राशिफल। आप अपना राशिफल स्‍लाइडर में देख सकते हैं।

मेष- जीवन साथी से तालेमल अच्छा बना रहेगा

इस सप्ताह आपके पास अवसर तो बहुत आयेंगे किन्तु उनका दोहन करने में आप चूक जायेंगे। समय का प्रबन्ध करने में इस समय दिक्कत महसूस होगी। जीवन साथी से तालेमल अच्छा बना रहेगा। पूर्व में किये गये वादे आपके लिए बोझ बन सकत है और आप उद्वेलित रहेंगे। कार्य की अधिकता से दबाव में न आयें अन्यथा संशयग्रस्त हो सकते है। आपकी ईमानदारी व कर्मनिष्ठा लोगों को कायल बना देगी। महिलायें अपनी जिम्मेदारियों का ठीक से निर्वहन करें। जीविका-साहित्य से जुड़े लोगों के लिए यह सप्ताह अच्छा रहेगा। शुभ मुहूर्त- मंगलवार दोपहर 12:15 मि0 से 01:22 मि0 तक। गुरू मन्त्र- गजेन्द्र मोक्ष का पाठ करें।

वृष - समय आपके लिए कुछ चुनौतियों भरा रहेगा

यह सप्ताह कुछ ऐसा करने के लिए आप व्याकुल रहेंगे जिससे आपकी स्वयं की पहचान बनें। आपके लिए कुछ चुनौतियों भरा रहेगा। मित्रों से नजदीकियाॅ बढ़ेगी। स्वध्याय से मन को शान्ति मिलेगी। आपको परिजनों के साथ तालमेल बिठाने में कठिनाई महसूस होगी। धैर्य से स्थितियों में सुधार होगा। मौसम से सम्बन्धी बीमारियाॅ आप पर अटैक कर सकती है। अतः सावधानी बरतने की आवश्यकता है। महिलायें अपनी समस्याओं को छुपायें न।

जीविका-सोने-चांदी के बिजनेस से जुड़े लोगों के लिये यह सप्ताह लाभप्रद प्रतीत होगा। शुभ मुहूर्त-शनिवार संाय 04:30 मि0 से 06:10 बजे तक। गुरू मन्त्र- राम स्त्रोत का पाठ करें।

मिथुन- महिलायें अति भावुकता से बचें

इस सप्ताह आप किसी से बुहत अपेक्षा न करें वरना निराशा का सामना ही करना पड़ेगा। आप कुछ ऐसा न करें कि जिससे पारिवारिक स्थितियां आपके नियन्त्रण से बाहर हो जायें। अनुपयोगी सम्बन्धों से छुटकारा पाने का मार्ग खोजें। नवयुवक अनजाने सम्बन्धों से अधिक नजदीकियाॅ न बढ़ायें अन्यथा छल का शिकार हो सकते है। ऑफिस के कार्यो में कुछ अड़चने आयेंगी जिससे मन में निराशा के भाव उत्पन्न होंगे। महिलायें अति भावुकता से बचें। जीविका- रीयल स्टेट से जुड़े लोगों के लिये यह सप्ताह अच्छा रहेगा। शुभ मुहूर्त- बुधवार रात्रि 08:25 मि0 से 10:10 बजे तक। गुरू मन्त्र- गणेश स्त्रोत का पाठ करें।

कर्क- अनहोनी होने के भय से चिन्तित रहेंगे

इस सप्ताह कुछ लोग किसी अनहोनी होने के भय से चिन्तित रहेंगे। बेवजह मन पर बोझ रखकर इसे भारी न करें, जो हो रहा उसे होने दें। कार्य व व्यवसाय में चुनौती एंव कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना होगा। आप स्वंय को जोश से भरा महसूस कर एंव त्रुटियों को सुधारकर नयें प्रगति के पथ पर आगे बढ़ सकते है। सन्तान के स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही न करें अन्यथा समस्या बढ़ सकती है। नजदीकी और गहरे सम्बन्धों के प्रति मन में खिन्नता के भाव उत्पन्न हो सकते है। महिलायें स्वंय को समझने की कोशिश करें। जीविका- कम्प्यूटर के व्यवसाय से जुड़े लोगों के लिए यह सप्ताह ठीक रहेगा है। शुभ मुहूर्त-गुरूवार सुबह 09:30 मि0 से 11:10 मि0 तक। गुरू मन्त्र- भैरव चालीसा का पाठ करें।

सिंह- आप तनावग्रस्त व संशय में रह सकते है

इस सप्ताह कुछ लोगें को अनुशासित होकर कार्य करना पड़ेगा। अधिक भागदौड़ की वजह से आप तनावग्रस्त व संशय में रह सकते है। कार्य में दबाव का बोझ बढ़ेगा ऐसी स्थिति में धैर्य व आत्मबल ढाल का काम करेंगे। अतिभावुकता आपको अन्दर से कमजोर बना सकती है, अतः सचेत व सजग रहें। धन की प्राप्ति करने के लिए कठिन संघर्ष करना पड़ेगा। महिलाओं को इस वक्त निर्णय लेने में तत्परता दिखानी होगी। जीविका-शिक्षा के व्यवसाय से जुड़े लोगों के लिए यह सप्ताह मध्यम रहेगा। शुभ मुहूर्त- शनिवार रात्रि 09:10 मि0 से 11:21 मि0 तक। गुरू मन्त्र- कार्तिकेय जी की स्तुति करें।

कन्या- रोजी व रोजगार में अड़चने व बाधायें आयेंगी

इस सप्ताह आप जो भी सोंचे उसे तत्काल फालो करने की कोशिश करें। क्योंकि जो कार्य हो जाता है, वह हो जाता है और जो टल गया सो टल गया। अपने हुनर का प्रदर्शन करना पड़ेगा, क्योंकि होने वाली परिघटनाओं से तालमेल बिठाना होगा। रोजी व रोजगार में अड़चने व बाधायें आयेंगी किन्तु सतत् संघर्ष से सफलता जरूर मिलेगी। परिजनों से तालमेल बिठाने में खुद को आप असमर्थ महसूस करेंगे। महिलायें क्षण-प्रतिक्षण अपने समय का उपयोग करें। जीविका- अधिवक्ता वर्ग से जुड़े लोगों के लिये यह सप्ताह लाभप्रद रहेगा। शुभ मुहूर्त-सोमवार दोपहर 12ः32 मि0 से 02ः40 बजे तक। गुरू मन्त्र- शनि स्त्रोत का पाठ करें।

तुला- दाम्प्त्य जीवन में तीखी-मीठी नोंक-झोंक हो सकती है

इस इस सप्ताह कुछ लोगों कासामाजिक सरोकारो को लेकर मन उद्वेलित होगा। दाम्प्त्य जीवन में तीखी-मीठी नोंक-झोंक बनी रहने की सम्भावना है। पुत्र के साथ अच्छे रिश्तें बनायें रखना उचित है। आपकी कार्यशैली में महत्वपूर्ण परिवर्तन हो सकता है जिससे आपके दिमाग में तब्दीलियों का तूफान उठेगा। सहयोगियों के अनिर्णय के चलते कार्य लम्बित रहेंगे। व्यवसाय तथा कार्य में किये गये वादे समय पर पूरे न कर पाने से मन व्यथित होगा। महिलायें अपने संघर्ष के दम पर कुछ भी हासिल कर सकती है। जीविका- कारपोरेट जगत से जुड़े लोगों के लिए यह सप्ताह अच्छा रहेगा। शुभ मुहूर्त-रविवार सुबह 07:28 मि0 से 09:36 मि0 तक। गुरू मन्त्र- प्रत्येक शनिवार को पीपल पेड़ के नीचे तेल का दीपक जलायें।

वृश्चिक- मन निराशावादी विचारों से घिर सकता

इस सप्ताह आपके द्वारा सोंची गई योजनाओं में बाधायें आयेगी जिससे आपका मन निराशावादी विचारों से घिर सकता है। आप करना कुछ चाहेंगे और होगा कुछ जिसके कारण मन व्यथित रह सकता है। कार्य क्षेत्र कार्यनीति में परिवर्तन भी करना पड़ सकता है। अपने मातहत कर्मचारियों के पैनी नजर रखना आवश्यक है। किसी अहंकारी व्यक्ति से टकराव होने की आशंका है, अतः सचेत रहें। महिलायें किसी व्यक्ति विशेष के कटाक्ष को सीरियस न लें। जीविका- होटल व रेस्टोरेन्ट के व्यवसाय से जुड़े लोगों के लिये यह सप्ताह हितकारी रहेगा। शुभ मुहूर्त-गुरूवार अपरान्ह 02:50 मि0 से 04:30 मि0 तक। गुरू मन्त्र- शिवाष्टक का पाठ करें।

धनु- आप असंमजस वाली स्थिति में रहेंगे

इस सप्ताह कुम्भ का मंगल आपके खर्चो में वृद्धि करायेगा एंव कुछ लोगों को निर्णय लेने में दिक्कतों का सामना करना होगा। आप असंमजस वाली स्थिति में रहेंगे। खोये हुये अवसर प्रतिष्ठा आदि प्राप्त करने के संघर्ष रहेंगे। धन के लेन-देन में विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। अपनी काबलियत के दम आप परिचर्चा का केन्द्र बने रहेंगे। क्रेाध को अपने मन-मस्तिष्क पर हावी न होने दें। सर्दी लगने से स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है। महिलायें अपना काम स्वंय करने की कोश्शि करें तो अच्छा रहेगा। जीविका-लकड़ी के व्यापार से जुड़े लोगों के लिये यह सप्ताह ठीक रहेगा। शुभ मुहूर्त-शनिवार दोपहर 11:56 मि0 से 01:30 मि0 तक। गुरू मन्त्र- आदित्य ह्रदय स्त्रोत का पाठ करें।

मकर- वाणी में सौम्यता बनायें रखें

इस सप्ताह ठंड से बचें वरना बीमारी का शिकार हो सकते है। वाणी में सौम्यता बनायें रखें वरना किसी से मानसिक टकराव हो सकता है। कोई नई योजना का शुभारम्भ कर पाने में देरी होगी जिसके कारण मन उदासीन हो सकता है। काम के अधिक बोझ के फलस्वरूप भी आप-अपने परिवार को समय दे पाने में सक्षम रहेंगे। यदि आपकी तरफ से कोई प्रयास होता है, तो मित्रों के साथ बिगड़े सम्बन्ध बेहतर हो सकते है। महिलायें खुले विचारों से अपने काम को अंजाम दें। जीविका- डाक्टरी वर्ग के लिए यह सप्ताह काफी जटिल हो सकता है। शुभ मुहूर्त-गुरूवार सांय 04:14 मि0 से 06:20 मि0 तक। गुरू मन्त्र- मां सरस्वती देवी की आराधना करें।

कुम्भ- पारिवारिक समस्याओं में उलझकर अपना समय बर्बाद न करें

इस सप्ताह कुछ लोगों केकार्यक्षेत्र में षडयन्त्र रचे जाने की सम्भावना है। पारिवारिक समस्याओं में उलझकर अपना समय बर्बाद न करें। समय का किसी का इन्तजार नहीं करता है। आप स्ंवय को असुरक्षित महसूस करेंगे एंव निर्णय लेने में देरी करेंगे। नयें लोगों से उचित दूरी बनायें रखें अन्यथा प्रतिष्ठा में कमी आ सकती है। घरेलू खर्चो में वृद्धि आ सकती है जिसके फलस्वरूप आपका बजट गड़बड़ा सकता है। महिलायें निर्णय लेने में हिचकिचायेंगी। जीविका- भूमि व प्रापर्टी के व्यवसाय से जुड़े लोगों के लिए यह सप्ताह मध्यम रहेगा। शुभ मुहूर्त-शुक्रवार रात्रि 07:58 मि0 से 09:40 मि0 तक। गुरू मन्त्र- दुर्गा जी की स्तुति करें।

मीन- नयें सम्बन्धों मजबूत करने में ज्यादा समय देंगे

इस सप्ताह आप नयें सम्बन्धों मजबूत करने में ज्यादा समय देंगे। कुछ लोगों की आर्थिक स्थितियों में सुधार होगा और विपरीत स्थितियाॅ धीरे-धीरे कम हो जयोंगी। आपका भाग्यपक्ष मजबूत होने से किसी कठिन समस्यायें से उबरेगें। परिवार के खिन्न लोगों को मनाने का समय आ गया है। कार्यस्थल में लोग आपके मन मुताबिक कार्य नहीं करेंगे जिसके कारण आप व्यथित हो सकते है। महिलायें स्वयं के हिसाब से काम करें। जीविका- कपड़े के व्यवसाय से जुड़े लोगों के लिए यह सप्ताह फायदेमन्द साबित होगा। शुभ मुहूर्त-रविवार रात्रि 09:32 मि0 से 11:40 मि0 तक। गुरू मन्त्र- पंचाक्षरी मंत्र का जाप करें।

English summary
Lucknow astrologer Pandit Anuj K Shukla is telling your weekly horoscope in Hindi.
Write a Comment