शनि के धनु राशि में प्रवेश से क्या होगा जीवन पर असर?

By: पं. अनुज के शुक्ल
Subscribe to Oneindia Hindi

26 जनवरी 2017 दिन गुरूवार को रात्रि 7 बजकर 20 मि0 पर वृश्चिक राशिगत शनि का अपने मित्र गुरू की राशि धनु में प्रवेश होगा। तात्कालिक चन्द्र भी उस समय धनु राशि में व शुक्र के नक्षत्र पूर्वाअषाढ़ में रहेगा। ऐसे ग्रह गोचर में कर्क, धनु व कुम्भ राशि वालों का शनि स्वर्ण पाद में रहेगा। जो मिश्रित फलदायक होगा।

शनि का आगमन सुख-सौभाग्यदायक होगा

मेष, सिंह और वृश्चिक राशि के रजत पाद में शनि का आगमन सुख-सौभाग्यदायक होगा। मिथुन, तुला और मीन राशि वालों को ताम्रपाद से शनि का आगमन उन्नति और भौतिक सुख देने वाला है। वृष, कन्या और मकर राशि वालों के लौह पाद में शनि गोचर करेगा। यह शनि का आगमन कष्टप्रद एंव सामाजिक कार्यो व परिवार में तनाव की स्थिति उत्पन्न करा सकता है।

मेष राशि

मेष राशि

इस राशि पर 26 जनवरी के बाद शनि की ढैय्या का असर पूरी तरह समाप्त हो जायेगा। बिजनेस, नौकरी, स्वास्थ्य आदि मामलों यह वर्ष अनुकूल सिद्ध होगी। नई कार्य योजनाओं में किया गया निवेश भी लाभप्रद साबित होगा। पिता के स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है। रजत पाद में शनि का आगमन कल्याणकारी सिद्ध होगा।

वृष राशि

वृष राशि

अगर आपकी चन्द्र राशि वृष है तो आप पर शनि की ढैय्या का असर रहेगा। यानि आने वाले 2 वर्ष 6 माह तक कुछ लोगों को विभिन्न प्रकार की समस्याओं से जूझना होगा। परिवार में तनाव की स्थिति रह सकती है। बड़े निवेश से बचना होगा एंव आर्थिक लेन-देन में सावधानी बरतें। राशि से अष्टम शनि अशुभ फल देगा।

मिथुन राशि

मिथुन राशि

इस राशि वालों पर ताम्रपाद का शनि उन्न्ति और धन-धान्यदायक सिद्ध होगा। राज्य व व्यापार में भाग्य-कर्म का प्रारब्ध का सहयोग रहेगा। राशि से सप्तम शनि पूज्य योग कारक होता है। पारिवारिक में सुख-शान्ति बनी रहेगी। दिनचर्या की अव्यस्था के कारण यदा-कदा समस्यायें उत्पन्न हो सकती है। विद्यार्थियों व बरोजगार व्यक्तियों को अपेक्षित परिणाम मिलेंगे।

कर्क राशि

कर्क राशि

कर्क राशि वालों का शनि स्वर्ण पाद में प्रवेश करेगा, जो मिश्रित प्रभाव देने वाला है। राशि से छठें शनि शुभप्रद एंव सफलतादायक प्रतीत होंगे। कुछ लोगों को अपने प्रयासों से सफलता के मार्ग प्रशस्त होगें। खर्च के अनियन्त्रित होने से आर्थिक बजट गड़बडा सकता है। रोजी व रोजगार में सफलता के मार्ग प्रशस्त होंगे। कुछ लोगों को पारिवारिक, शारीरिक व मानसिक परेशानियॉ बढ़ सकती है।

सिंह राशि

सिंह राशि

इस राशि वाले जातक शनि की ढैया से मुक्त हो जायेंगे। सिंह राशि वालो को रजत पाद से शनि का प्रवेश लाभकारी रहेगा। राज्य व व्यवसाय में मजबूत स्थिति बनी रहेगी। राहु के प्रभाव से शारीरिक व मानसिक तनाव की स्थिति बनी रह सकती है। कुछ लोगों के नौकरी में पदोन्नति के अवसरों में वृद्धि होगी। सामाजिक व राजनैतिक क्षेत्र से जुड़े लोगों को लाभ होगा।

कन्या राशि

कन्या राशि

इस राशि के जातकों के उपर शनि की ढैय्या का प्रभाव रहेगा। अपने बॉस से तालमेल बनायें रखें एंव ऑफिस किसी से बहस न करें। प्रेमी वर्ग इस समय विशेष सावधानी बरतें। अगर किसी से प्रेम करते है तो प्रपोज करने से बचें। कुछ लोगों को स्वास्थ्य से सम्बन्धित दिक्कतें हो सकती है। कन्या राशि वालों को लौह पाद से शनि का आगमन कष्टप्रद एंव सामाजिक कार्यो में अवरोध अवरोध उत्पन्न होंगे।

तुला राशि

तुला राशि

इस राशि के जातकों के पर शनि की साढ़ेसाती समाप्त हो जायेगी। जॉब वाले लोगों को अच्छा प्रमोशन मिल सकता है एंव व्यवसाय में प्रगति होगी। कुल मिलाकर इस राशि से जुड़े लोगों के उपर शनि देव की अनुकूल कृपा बनी रहेगी। कुछ लोगों के घर में मॉगलिक कार्य होेगें। बिगड़े हुये कार्य बनेंगे तथा आर्थिक स्थिति में मजबूती आयेगी। दाम्प्त्य जीवन में अच्छा सामंजस्य बना रहेगा। राशि से तीसरे में शनि पुरूषार्थ, पराक्रम एंव प्रभाव को बढ़ायेगा।

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि

इस राशि के जातकोे कें पैरों पर साढ़ेसाती का प्रभाव रहेगा जो अगले 2 वर्ष 6 माह तक रहेगा।। इस राशि वालों के पैरों पर साढ़ेसाती रहने के कारण वृश्चिक राशि वालों को सावधान रहना होगा। गठिया रोगियों को अपने खान-पान पर विशेष सावधानी बरतनी होगी। इस राशि में जिनका जन्म ज्येष्ठा नक्षत्र में हुआ है, उन्हें अपने कार्यो के प्रति विशेष सर्तक रहना होगा। मित्रों से धोखा, स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव एंव कर्ज व व्याज आदि में हानि उठानी पड़ सकती है। इस राशि वालों को इन दिनों यात्राओं से बचना होगा। सोंच-समझकर ही निवेश करें अन्यथा हानि हो सकती है।

धनु राशि

धनु राशि

इस राशि वालों पर भी साढ़ेसाती का प्रभाव देखने को मिलेगा। धनु राशि वालों पर साढ़ेसाती धन हानि, शारीरिक पीड़ा, कार्यो में रूकावट, परिवारिक समस्याओं से जूझना होगा। क्रोध पर नियन्त्रण रखना होगा अन्यथा और मुसीबत में फॅस सकते है। इस वर्ष की अपेक्षा अगले वर्ष इस राशि वालों को विशेष कष्ट का सामना करना पड़ सकता है। खासकर ह्रदय रोगियों को विशेष सावधान रहने की जरूरत है। खान-पान में सावधानी बरतें वरना नयें लोग भी ह्रदय रोग से पीडि़त हो सकते है।

मकर राशि

मकर राशि

इस राशि के लिए प्रथम चरण में शनि की साढ़ेसाती अच्छी रहेगी। किन्तु फिर भी शनिदेव की आराधना करें। सन्तान को पीड़ा हो सकती है। पूरे वर्ष मकर राशि पर शनि की का प्रभाव रहेगा। जिस कारण इन्हें धन, परिवार, स्वास्थ्य आदि से सम्बन्धित रूकावटें आयेंगी। रिस्की कार्यो से बचना होगा। व्यापारी वर्ग को ज्यादा निवेश करने से बचना होगा। स्वास्थ्य के मामलें में की गई लापरवाही मंहगी साबित हो सकती है। मकर राशि शनि की ही राशि इसलिए शनिदेव आपको ज्यादा परेशान नहीं करेंगे।

कुम्भ राशि

कुम्भ राशि

इस राशि वालों का शनि स्वर्ण पाद में प्रवेश करेगा। राशि से एकादश शनि का स्वर्णपाद से शुभफल कारक रहेगा। श्रम-संघर्ष से सफलता, जोखिम से बचें। दामप्त्य जीवन में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। स्वास्थ्य के प्रति चिन्ता, व्यवसायिक गतिरोध बना रहेगा। आर्थिक स्थितियों में मजबूत आयेगी। सामाजिक मान-सम्मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। छात्रों के लिए समय उत्साहवर्द्धक रहेगा।

मीन राशि

मीन राशि

आपकी राशि से दशमस्थ शनि शुभ है। मीन राशि वालों को ताम्रपद से शनि का आगमन उन्नति और धन-धान्य को देने वाला है। राज्य, व्यवसाय में सफलता, आरोग्य, सुख, रोग, ऋण, शत्रुओं पर विजय। स्वास्थ्य की चिन्ता, व्यय की अधिकता रहेगी। सामाजिक-राजनैतिक लोगों का जनसम्पर्क बढ़ेगा। छात्रों के लिए समय सफलता देने वाला है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Saturn is going to transit to Sagittarius on 26th January 2017. Saturn stays in a sign for almost two and half years.
Please Wait while comments are loading...