वास्तु दोष के कारण जन्म लेते हैं एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। वास्तु केवल घर को तोड़-फो़ड़कर ही किस्मत के दरवाजे खोलने के लिए नहीं हैं बल्कि वास्तु के कारण आप अपने रिश्ते को सजा भी सकते हैं और संवार भी सकते हैं।

फेंगसुई और वास्तु शास्त्र में क्या है अंतर?

यही नहीं वास्तु के जानकारों का मानना है कि इसके जरिए पति-पत्नी अपने साथी के एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर के बारे में भी पता लगा सकते हैं। वास्तु शास्त्री कुशदीप बंसल ने कुछ लक्षण बताए हैं जिनके आधार पर अवैध संबंधों का पता लगाया जा सकता है।

क्या है वो बिंदु...

  • वास्तु शास्त्र लोगों के जीवन में पड़ने वाली सकारात्मक और नकारात्मक ऊर्जा पर नियंत्रण रखता है।
  • नकारात्मक रूप का असर तब होता है जब पति-पत्नी बिना मुद्दे के बात-बात पर झगड़ने लगते हैं।
  • मियां-बीवी के बीच का स्नेह कम होने लगता है।
  • पति-पत्नी को सिर्फ एक-दूसरे में कमी दिखने लगती है।
  • वास्तु दोष के ही कारण पति-पत्नी बाहर जाकर अवैध संबंधों को जन्म देने लगते हैं।
  • वास्तु के मुताबिक घर की पश्चिम-दक्षिण एवं उत्तर-पश्चिम दिशा में यदि दोष हों तो यह सीधा पति-पत्नी के जीवन पर असर करते हैं।
  • वास्तु दोष बेडरूम का गलत जगह बनने से भी हो सकता है।
  • घर में दीवारों का रंग, सीढ़ियों का गलत दिशा में होना भी एक तरह का वास्तु दोष है।
  • इसलिए बोला जाता है कि हसबैंड-वाइफ का बेडरूम नार्थ-वेस्ट में नहीं होना चाहिए।
  • बेडरूम में लाल बेडशीट नहीं होनी चाहिए और बेड के ठीक सामने शीशा नहीं होना चाहिए।
  • बेडरूम में बाथरूम नहीं होना चाहिए और अगर है तो उसका गेट हमेशा बंद होना चाहिए।
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Here are few interesting tips from the world of Vastu to bring peace and happiness in relationships and to avoid Extra Marital Affairs by Vastu Shastri Khushdeep Bansal.
Please Wait while comments are loading...