चुटकी भर नमक बना सकता है खुशहाल, कहता है वास्तु व‌िज्ञान

नमक सन्तुलन का प्रतीक है। जीवन में सन्तुलन से ही सफलता के मार्ग प्रशस्त होते है।

Written by: पं.अनुज के शु्क्ल
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। नमक का भोजन में विशेष रोल होता है। यदि कम हो जाये तो भी भोजन बेस्वाद लगेगा और अधिक हो जाये तो भोजन को गले से उतारना मुश्किल हो जाता है। नमक सन्तुलन का प्रतीक है। जीवन में सन्तुलन से ही सफलता के मार्ग प्रशस्त होते है।

अगर चाहिए पैसा तो घर में लगाइए..मनीप्लांट

आइये आज हम आपको नमक के बारें में कुछ रोचक जानकारियॉ उपलब्ध कराते हैं... 

  • यदि आपके घर में वास्तुदोष का प्रभाव है तो सेंधा नमक को एक कटोरी में रखकर बाथरूम के एक कोने में रख दें। ऐसा करने से बाथरूम का वास्तुदोष समाप्त हो जाता है।
  • कम से कम सप्ताह में एक बार सेंधा नमक डालकर पूरे घर में पोंछा लगाने से मकान की नकारात्मक उर्जा निकल जाती है।
  • यदि आपके व्यवसाय में निरन्तर गिरावट आ रही है तो एक लाल कपड़े में सेंधा नमक का एक टुकड़ा बॉधकर व्यवसाय स्थल के मुख्यद्वार पर टॉग दें। ये उपाय करने से व्यापार में प्रगति होने लगती है। 
  • घर के मुख्यद्वार पर सेंधा नमक के टुकड़े को लाल कपड़े में बॉधकर टॉगने से मकान में नकारात्मक उर्जा प्रवेश नहीं करती है एंव परिवार के लोगों की रक्षा होती है।
  • हर अमावस्या को एक चुटकी सेंधा नमक पूरे परिवार के सदस्यों के उपर से 7 बार उतारकर जल में प्रवाहित कर देना चाहिए। जिससे परिवार के लोगों में आपसी प्रेम बना रहता है। यह उपाय कम से कम 10 अमावस्या को करना होगा।
  • अगर किसी बच्चे या बड़े को नजर दोष की शिकायत है तो रविवार या मंगलवार के दिन एक चुटकी सेंधा नमक पीडि़त जातक के सिर पर से 7 बार उतारकर अग्नि में डाल देने से नजर दोष समाप्त हो जाता है। 
  • रात्रि में सोने से पूर्व पानी में चुटकी भर नमक मिलाकर हाथ पैर धोने से तनाव छुटकारा मिलता है और नींद आती है। साथ में राहु का दुष्प्रभाव भी कम हो जाता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Use Of Salt In Vastu Shastra, its saurce of positive energy, health and wealth.
Please Wait while comments are loading...