नवरात्रि 2016: 'अश्व' पर आएंगी मां दुर्गा, परेशान नेतागण

Subscribe to Oneindia Hindi

बैंगलोर। नवरात्रि का सुंदर आगाज 1 अक्टूबर से होने जा रहा है, मां के अलौकिक रूप को पूजने के लिए चारों ओर खास तैयारियां हो रही हैं। मां भी अपने भक्तों से मिलने के लिए खास सवारी पर आती है, जिससे आने वाला वक्त कैसा होगा इसका अंदाजा लगाया जाता है।

इस बार नौ नहीं दस दिन की है नवरात्रि, 18 साल बाद महासंयोग

इस बार मां शेरावाली 'अश्व' पर सवार होकर भक्तों से मिलने आ रही हैं। ऐसी माना जाता है कि घटस्थापना के दिन के मुताबिक मां की सवारियां बदल जाती हैं इसलिए हर साल माता का वाहन अलग-अलग होता है।

शारदीय नवरात्र 2016: जानिए घट-स्थापना की पूजा और मुहूर्त का समय

इस बार का नवरात्र शनिवार से शुरू हो रहा है इसलिए मां की सवारी 'घोड़ा' यानी 'अश्व' है और वो 'मुर्गे' से प्रस्थान करेंगी। शनिवार के दिन से मां भगवती के दिन शुरू हो रहे हैं इसलिए ऐसा माना जा रहा है कि इस बार का नवरात्र देश के कुछ नेताओं के लिए शुभ नहीं होने वाले हैं।

अपनी अश्लील फोटो पर बोलीं सोफिया.. बाबा रामदेव से ज्यादा कपड़े पहनती हूं...

सवारी से जुड़ता है भविष्य

कहते हैं कि मां की सवारी से मां का रूख आंका जाता है जिससे भविष्य की कल्पना की जाती है। इस बार मां की सवारी 'घोड़ा' है जो कि शक्ति और युद्द का प्रतीक है इसलिए ज्योतिषियों के मुताबिक मां का 'घोड़े' पर आना शासन के लिए तो अच्छा नहीं लेकिन जातकों के लिए अच्छा होगा क्योंकि घोड़ा शक्ति, तेजी और बुद्दिमानी का सूचक है।

Miss United Continents 2016: नागपुर की लोपमुद्रा ने जीता बेस्ट कॉस्ट्यूम का खिताब

मान्यता के मुताबिक मां की सवारी दिन के हिसाब से निम्नलिखित होती है..

  • सोमवार को मां की सवारी: हाथी।
  • मंगलवार को मां की सवारी: अश्व यानी घोड़ा।
  • बुधवार को मां की सवारी: नाव।
  • गुरूवार को मां की सवारी: डोली।
  • शुक्रवार को मां की सवारी: डोली।
  • शनिवार को मां की सवारी: अश्व यानी घोड़ा।
  • रविवार को मां की सवारी: हाथी।

पचासा मारने के बाद जडेजा ने तलवार जैसे घुमाया बैट, कोहली ने रोका, वीडियो वायरल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Arrival of Maa Durga on Horse in Navratri 2016. Durga coming on a horse is not considered very auspicious. It is believed that it is omen of likely war among nations.
Please Wait while comments are loading...